आखिर पेट को ही झुका घुटना, मुलायम ने किया अखिलेश का एलान

By: jhansitimes.com
Jan 10 2017 10:13 am
847

लखनऊ: एक बार फिर से समाजवादी पार्टी में जारी पिता-पुत्र दंगल के बीच मुलायम सिंह यादव ने अपना रुख बदलते हुए (9 जनवरी)  सोमवार रात कहा कि यूपी विधानसभा चुनाव के बाद अखिलेश ही सूबे के अगले मुख्यमंत्री होंगे।  साथ ही उन्होंने दावा किया कि पार्टी टूटने का सवाल ही नहीं है।  गौरतलब है कि मुलायम सिंह यादव समाजवादी पार्टी के चुनाव चिह्न ‘साइकिल’ पर अपना हक जताने के लिए सोमवार (9 जनवरी) को दिल्ली स्थित चुनाव आयोग के ऑफिस गए थे। उनके साथ अमर सिंह और शिवपाल यादव भी थे।

 

 आज हो सकती है मुलाकात मुलायम और अखिलेश की

मुलायम ने कहा कि यूपी में जल्द ही वह पार्टी के लिए चुनावी अभियान की शुरुआत करेंगे. सूत्रों की मानें तो आज अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव के बीच मुलाक़ात हो सकती है. इससे पहले मुलायम ने सोमवार को चुनाव आयोग से मुलाक़ात के बाद कहा था कि उनका अखिलेश से कोई विवाद नहीं है. रामगोपाल यादव का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा था कि एक शख्स की वजह से ही पूरा विवाद और उसी ने अखिलेश को बहका दिया है. इस बीच सोमवार को दोनों खेमो की ओर से साइकिल चुनाव चिह्न पर दावेदारी पेश कर दी गई है और अब फैसला चुनाव आयोग को करना है.

 

 अजीब-सी स्थिति रही

मुलायम सिंह ने तो यह भी कहा कि हमारा अखिलेश से कोई मतभेद नहीं है और दोनों पक्षों में जो मतभेद हैं वे बहुत मामूली हैं, लेकिन प्रदेश में कई जगह समाजवादी पार्टी के दफ्तरों पर शिवपाल और अखिलेश गुट अपना अपना दावा पेश करते रहे, कुछ जगहों पर एक दूसरे को अंदर जाने से भी रोका गया.

 

अमर सिंह ने बोले -मुझे माफ कर दो

मुलायम और अखिलेश गुट के बीच एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप के जारी दौर में अमर सिंह ने अपनी सफाई जारी की है, जिसमें उन्होंने गिनवाया कि अखिलेश के लिए उन्होंने क्या-क्या किया है. उनकी पढ़ाई से लेकर शादी तक अपनी भूमिका का हवाला भी दिया. दूसरी तरफ खुद को पाक साफ बताते हुए रामगोपाल यादव को जवाब दिया. अमर सिंह की मानें तो पार्टी में जो कुछ हो रहा है इसके पीछे उनकी कोई भूमिका नहीं है. उन्होंने कहा कि मुझे माफ कर दो! कुछ तो लोग कहेंगे. सीती भी यहां बदनाम हुई. अखिलेश बेटे जैसे ही हैं. मेरी कोई महत्वकांक्षा नहीं. नेताजी को नहीं भड़काया.

 

ये भी  बोले मुलायम 

-मुलायम सिंह यादव ने कहा कि पार्टी की एकता का पूरा प्रयास है।

-पार्टी टूटने का कोई सवाल ही नहीं पैदा होता है।

-हम सब मिलकर जल्द ही चुनावी कैंपेन करेंगे।

-मुलायम ने कहा कि हमारे दस्तखत से ही उम्मीदवार तय होंगे।

-उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार के लिए वह खुद निकलेंगे।

-उन्होंने कहा कि वह आजमगढ़ और बरेली में रैली कर चुके हैं।

-अभी और कई मंडलों में रैली करेंगे। इसमें कोई भ्रम ना रहे।

 

चुनाव आयोग से निकालने के बाद मुलायम ने ये कहा 

-मुलायम सिंह ने कहा कि पार्टी सिंबल पर फैसला आयोग करेगा।

-हमने अपनी बात चुनाव आयोग के सामने रख दी है।

-मुलायम ने प्रो. रामगोपाल का नाम लिए बिना कहा कि केवल एक ही आदमी की वजह से पार्टी में विवाद है।

-उसी ने हमारे बेटे अखिलेश को बहका दिया है।

-मुलायम ने कहा कि अखिलेश हमारा बेटा है और हमारे बीच सब कुछ ठीक है।

-मुलायम सिंह ने कहा कि पार्टी में कोई मतभेद नहीं हैं।

-जो थोड़े-बहुत हैं वे जल्द ही सुलझा लिए जाएंगे।

 

 सभापति को मुलायम ने लिखा पत्र

-मुलायम ने राज्यसभा के सभापति को पत्र भी लिखा है।

-जिसमें उन्होंने प्रो. रामगोपाल यादव से राज्यसभा में एसपी के नेता का दर्जा वापस लिए जाने की मांग की है।

-इसके अलावा उनकी सीट में भी एक निर्दलीय के तौर पर बदलाव करने को कहा गया है।

-गौरतलब है कि प्रो. रामगोपाल यादव सपा के राज्यसभा सांसद भी हैं।


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।