BREAKING: रूस में हवाई हादसा, बर्फ के रेगिस्तान में टुकड़े-टुकड़े हुआ प्लेन , सभी 71 यात्रियों की मौत

By: jhansitimes.com
Feb 11 2018 08:10 pm
293

नई दिल्ली :  एक प्लेन क्रैश हुआ है रूस की राजधानी मास्को में । सारातोव एयरलाइन्स का ये विमान मास्को के करीब क्रैश हुआ। विमान में 65 यात्री और क्रू के 6 सदस्य थे। सारातोव एयरलाइन्स का ये एनटोनोव 148 विमान मास्को एयरपोर्ट से टेकऑफ के बाद अचानक रडार से गायब हो गया। मास्को के दोमोदेदोवो एयरपोर्ट पर रविवार को टेक ऑफ करने के बाद कुछ ही दूरी पर क्रैश हो गया है। रूस की मीडिया का दावा है कि घटना में सभी 71 सवार लोग मारे गए हैं। रूस का डोमेस्टिक एंटोनोव एन-148 मास्को से ओर्सक के लिए उड़ा था, तभी रामांस्की जिले में जाकर क्रैश हो गया है। वहीं, रूस सरकार की तरफ से अभी तक इसको लेकर कोई बयान नहीं आया है।   रूसी समाचार एजेंसी इंटरफेक्स ने कहा कि साराटोव एयरलाइंस द्वारा संचालित एक विमान रविवार को मास्को क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया, संभवतः बोर्ड पर सभी 71 लोगों की मौत हो गई है।  

प्रत्यक्षदर्शियों ने विमान को जलते हुए आसमान से गिरते देखा। आखिरी समय में विमान 6200 फीट की ऊंचाई पर था। रूस ने हादसे की जांच के आदेश दे दिये हैं। रूस की मीडिया का दावा है कि घटना में सभी 71 सवार लोग मारे गए हैं। प्लेन ने दोमोदेदोवो एयरपोर्ट से उड़ान भरी थी। फिलहाल रूसी अधिकारियों ने प्लेन का मलबा मिलने की पुष्टि की है।

रूस के आपात मंत्रालय ने कहा कि विमान के टुकड़े पाए गए हैं। समाचार एजेंसियों ने कहा कि Argunovo गांव के लोगों ने कहा कि उन्होंने आकाश से विमान गिरते हुए देखा। फ्लाइट ट्रैकिंग सेवा फ्लाइटडार 24 ने ट्वीट किया कि : "साराटोव एयरलाइंस की उड़ान # 6 डब्लू 703 को 7 साल के एंटोनोव एन -144 विमान के साथ पंजीकरण संख्या आरए -61704 के साथ किया गया था ... उड़ान # 6W703 मास्को से 11:22 यूटीसी समय और 5 मिनट बाद हमने संकेत खो दिया है इससे यह विमान पहले 3300 फीट प्रति मिनट पर था

कहा गया कि उड़ान # 6W703 के लिए गति और ऊंचाई ग्राफ़, आखिरी मिनट के दौरान 6200 फीट से 3200 फीट की दूरी पर एडीएस-बी सिग्नल डोमोडेडवो हवाई अड्डे से 20 किमी दक्षिण-पूर्व के बीच में सिग्नल खो गया था। दुर्घटना के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। इंटरफेक्स ने कहा कि रूसी परिवहन मंत्रालय विभिन्न संभावित कारणों पर विचार कर रहा है , जिसमें मौसम की स्थिति और एक पायलट की गलती भी शामिल है।

रूस निर्मित विमान सात साल पुराना था और एक साल पहले दूसरी रूसी एयरलाइन से साराटोव एयरलाइंस द्वारा खरीदा गया था। मॉस्को के दूसरे सबसे बड़े हवाई अड्डे के दोमोदेदोवो के एक स्रोत ने एजेंसियों को बताया कि विमान राडार से दो मिनट के भीतर गायब हो गया। दुर्घटना के बाद जांच शुरू कर दी गई है।


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।