मसाज पार्लर की आड़ में चल रहे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, कपडे सँभालते 4 लड़कों के साथ पकड़ी 13 लड़कियां

By: jhansitimes.com
Aug 20 2017 10:57 am
5685

मसाज के नाम पर अय्याशी होती थी। छापा पड़ा तो मसाज पार्लर में पकडे गए 13 लड़कियों संग 4 लड़के पकड़े गए, 2 नाबालिग भी। मामला हरियाणा के पानीपत की है। चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव मोहित अग्रवाल ने थाना चांदनी बाग पुलिस स्टेशन से महज पांच सौ मीटर की दूरी पर एक मॉल की बेसमेंट में मसाज पार्लर की आड़ में चल रहे सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है।

सीजेएम ने चार मसाज पार्लरों से 13 युवतियों व चार युवकों को बरामद किया है। इनमें एक 18 साल से कम उम्र की है। जबकि कुछ भागने में कामयाब हो गए। सीजेएम ने मौके से गर्भ रोकने का आपत्तिजनक सामान बरामद किया है। यहां से करीब 8800 रुपये बरामद किए। 

चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट मोहित अग्रवाल ने शुक्रवार सायं सेक्टर-25 स्थित एक मॉल के बेसमेंट में चल रहे मसाज पार्लरों पर छापेमारी की। यहां पर पार्लर की आड़ में सैक्स रैकेट चलाने का मामला पकड़ा। इसी वक्त कुछ युवतियां भाग निकली, जबकि 13 युवतियों व चार युवकों को मौके पर ही पकड़ लिया। सीजेएम ने रेड के बाद थाना चांदनी बाग पुलिस को मामले की जानकारी दी। 

एसएचओ थाना चांदनी बाग संदीप कुमार सूचना के बाद मौके पर पहुंचे। एसएचओ ने मसाज पार्लर में जाते ही सीजेएम द्वारा पकड़ी गई युवतियों को छोड़ने को कहा साथ ही उनका किसी तरह का हाथ न होने की बात भी कही। एसएचओ ने कहा कि वे केवल लड़कों के साथ बरामद लड़कियों पर ही कार्रवाई करेंगे। 

एसएचओ की बात सुनकर सीजेएम लाल हो गए। उन्होंने कहा कि मैंने इनको मौके से पकड़ा है और पॉर्लर से सैक्स रैकेट पकड़ने संबंधित आपत्तिजनक सामान बरामद हुआ है। थाना पुलिस इस मामले में निष्पक्ष कार्रवाई नहीं करती है तो वे इस मामले को हाईकोर्ट में लेकर जाएंगे। सीजेएम के कड़ा रुख अपनाने पर एसएचओ कुछ नरम हुए। इसी बीच सीजेएम मीडिया से रूबरू हो गए और पूरे मामले का पटाक्षेप कर दिया। एसएचओ फिर मीडिया कर्मियों को कार्रवाई के नाम पर पार्लरों से बाहर जाने की कहने लगे। 

सीजेएम को मिली थी शिकायत

चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट मोहित अग्रवाल ने बताया कि शुक्रवार सायं एक व्यक्ति ने सूचना दी कि सेक्टर-25 स्थित एक मॉल में मसाज पार्लर के नाम पर सैक्स रैकेट चलाया जा रहा है। सूचना देने वाले ने बताया कि सैक्स रैकेट पुलिस की शह पर चल रहा है। सूचना के आधार पर थाना पुलिस पर विश्वास नहीं था। इन्हीं सबके चलते अपनी अलग से टीम गठित की। सीजेएम ने पहले एक डिकोय ग्राहक को मसाज पार्लर में ग्राहक बनाकर भेजा। 

पार्लर में ग्राहक से एंट्री फीस एक हजार रुपये ली गई। जिसके बाद उसे कुछ इंतजार करने की बात कही। करीब एक घंटे इंतजार करने के बाद डिकॉय को मसाज के लिए अंदर बुलाया और मसाज के अलावा जिस्म फरोशी के लिए अतिरिक्त एक हजार रुपये की बात कही। डिकॉय ग्राहक ने एक हजार रुपये और दिए और उसने मोबाइल से मैसेज भेजकर रेड मारने को इशारा किया। 

जिसके बाद टीम ने मॉल में स्थित चार मसाज पार्लरों पर छापा मारा और अनैतिक कार्य में लगी 13 युवतियां व चार युवकों को काबू किया। मसाज पार्लर के नाम पर चलाए जा रहे सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ होने के बाद सीजेएम मोहित अग्रवाल ने थाना पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलने के करीब आधे घंटे बाद थाना चांदनी बाग प्रभारी संदीप कुमार टीम समेत मौके पर पहुंचे और कार्रवाई शुरू की।

चार घंटे तक चली कार्रवाई            

सीजेएम टीम के साथ शनिवार देर सायं करीब पांच बजे मॉल में पहुंचे और करीब एक घंटे तक अंदर भेजे गए डिकॉय ग्राहक के इशारे का इंतजार करते रहे। इशारा मिलने के बाद मसाज पार्लर पर छापा मारा। छापे की कार्रवाई देर सायं करीब नौ बजे पूरी हुई। चार घंटे तक चली कार्रवाई के दौरान मौके पर लोगों की भीड़ जुटी रही।      

आगे की कार्रवाई पुलिस करेगी : सीजेएम             

सीजेएम मोहित अग्रवाल ने कहा कि हमें गुप्त सूचना के आधार पर सेक्टर-25 स्थित एक मॉल में मसाज पार्लर की आड़ में चलाए जा रहे सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया था। हमने अपना काम कर पुलिस को सूचित कर दिया था। आगे की कार्रवाई थाना चांदनी बाग पुलिस को करनी है। एसएचओ चांदनी बाग ने आते ही कार्रवाई में आनाकानी की थी। 

मुझे पहले से ही थाना पुलिस की कार्रवाई पर शक था। शिकायतकर्ता द्वारा पुलिस की शह पर अनैतिक कार्य करने के सबूत भी मिल गए। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने सैक्स रैकेट को पकड़कर अपना काम पूरा किया है। थाना पुलिस को लिखित शिकायत दे दी है। इस मामले में आगामी कार्रवाई पुलिस की है। पुलिस इसमें कार्रवाई नहीं करती है तो वे हाईकोर्ट के सामने पूरे मामले को रखेंगे। 

संदीप कुमार, प्रभारी, थाना चांदनी बाग, पानीपत ने बताया कि सेक्टर-25 स्थित एक मॉल में मसाज पार्लर की आड़ में चल रहे सैक्स रैकेट को पकड़ा है। जिसमें 13 युवतियां व चार युवक शामिल हैं। सभी के खिलाफ अनैतिक देह व्यापार अधिनियम की धाराओं के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।             


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।