सपना चौधरी के डांस पर बवाल, जलीं मोटरसाइकिलें, पिटी पुलिस, उसके बाद...

By: jhansitimes.com
Aug 10 2017 08:30 am
251

  हरियाणा और पड़ोसी राज्यों में डांस के लिए मशहूर हो चुकीं डांसर सपना चौधरी एक बार फिर सुर्ख़ियों में हैं। सपना चौधरी के राजस्थान में हुए कार्यक्रम में जमकर पत्‍थरबाजी हुई है।  यहां के गांव गुढ़ागौड़ जी स्थित आशीर्वाद मैरिज गार्डन में सपना चौधरी का डांस प्रोग्राम था।  एंट्री नहीं मिलने पर भीड़ उग्र हो गई और पुलिस पर पत्‍थरबाजी शुरु हो गई। रात करीब 9:30 बजे गुस्‍साई भीड़ ने गाडियों में आग लगा दी। जानकारी के मुताबिक मौके पर मौजूद डीसीपी को चोट आई है।

जानकारी के मुताबिक सपना चौधरी के कार्यक्रम में 500-1000 रुपए में टिकटें बेचकर एंट्री हो रही थी। कार्यक्रम स्थल पर प्रवेश दिया जा रहा था। इस दौरान कुछ युवकों ने बिना टिकट अंदर जाने की कोशिश की। आयोजकों के वॉलेंटियर्स एवं वहां तैनात पुलिसकर्मियों ने उन्हें अंदर जाने से रोका तो वे लोग आक्रोशित हो गए।

पुलिस के अनुसार  आशिर्वाद मैरिज गार्डन के पास ही ईंट भट्ठा है। जैसे ही पुलिस ने भीड़ को खदेड़ने की कोशिश की भीड़ ईंट भट्ठे पर चढ़ गई। उपद्रव करने वाले लोग भट्टे पर चढ़ गए और ईंटों को तोड़-तोड़ कर फैंकने लगे।

 इस कार्यक्रम की अनुमति प्रशासन ने भीड़ का अंदाजा लगाए बिना जारी कर दी। मिली जानकारी के अनुसार, कुछ युवक बिना टिकट अंदर घुसने के लिए आमदा थे। इन्हें रोका तो वे लोग आक्रोशित हो गए। इन्होंने दर्शकों और स्टेज की ओर पत्थर फेंकना शुरू कर दिया।

 पथराव में नवलगढ़ डीएसपी प्रभाती लाल मीणा सहित एक पुलिसकर्मी और कुछ दर्शकों को चोटें आई। इसके बाद पुलिस ने भीड़ को काबू में करने के लिए लाठियां भांजी। पुलिस की पिटाई से बचने के लिए युवक खेतों में भाग गए। जानकारी के मुताबिक हंगामा रात 8 बजे शुरु हुआ।

सपना चौधरी के इस कार्यक्रम में हजारों लोग पहुंचे। व्यवस्था के लिए केवल 40 होमगार्ड जवान और स्थानीय थाने के स्टाफ को लगाया गया। मामला बिगड़ा तो आरएसी तथा आसपास के थानों का जात्‍था बुलाकर स्थिति को काबू में किया गया। पुलिस ने एक दर्जन लोगों के खिलाफ नामजद और 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

 सपना ने बीते साल 12 अक्‍टूबर को यूपी के बागपत जिले में परफॉर्म किया था। पूरा बागपत सपना का बेसब्री से इंतजार कर रहा था। लेकिन जब सपना को आने में देरी हुई तो भीड़ बेकाबू हो गई और हंगामा करने लगी। जानकारी के मुताबिक सपना का प्रोग्राम रात करीब 7 बजे शुरू होना था। सपना के आने की खबर को लेकर काफी संख्‍या में लोग भी आए थे। लेकिन काफी देर इंतजार के बाद जब सपना नहीं आई तो लोगों ने हंगामा मचाना शुरू कर दिया। लोगों ने लाठी-डंडे और हथियार निकाल लिए और आयोजकों से नोक-झोंक शुरू कर दी। देर रात 10:30 बजे सपना के स्‍टेज पर पहुंचने के बाद बवाल शांत हुआ। परफॉर्मेंस के बाद सपना रात करीब 2 बजे वापस लौट गई।


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।