धनराशि देने के बाद भी नहीं हुए विकास कार्य, मंडलायुक्त ने दिखाई नाराजगी

By:
Jan 12 2019 06:55 pm
174

झांसी। बुन्देलखंड के झांसी में मंडलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्तव ने झांसी विकास प्राधिकरण की 75 वीं वोर्ड बैठक की। जिसमें उन्होंने प्राधिकरण की 74 वीं बोर्ड बैठक की अनुपालन आख्या की समीक्षा करते हुए जल संस्थान के कार्यों पर सख्त नाराजगी व्यक्त की। धनराशि उपलब्ध होने के बाद भी कोई कार्य न करने पर महाप्रबंधक जल संस्थान को फटकार लगाई। 

बैठक में मंडलायुक्त श्रीमती कुमुदलता श्रीवास्वत ने बताया कि  लगभग 13 करोड़ से अधिक अवस्थापना निधि से 12 विकास कार्य कराकर झांसी को सुन्दर बनाया जायेगा। जल संस्थान को पैसा दिये जाने के बाद भी 9 माह से कोई कार्य नहीं हुआ। जिस पर अल्टीमेटम, सारे प्रोजेक्ट की रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। नगर निगम व राजस्व विभाग 15 दिन में भ्रमण कर ट्रासपोर्ट नगर की स्थापना के लिए भूमि चिह्ति करें। सारंन्ध्रा नगर आवासीय योजनान्तर्गत पानी के बिल की वसूली के लिए कैम्प लगाये जाने के निर्देश दिये। बैठक में नगर आयुक्त द्वारा बताया गया कि जल संस्थान को मंडी रोड चौड़ी करण के लिए पाइप लाइन शिफ्ट करने के लिए 1 करोड़ 33 लाख की धनराशि व बेतवा बिहार आवासीय योजना में जलापूर्ति के लिए लगभग 30 लाख रुपए 9 माह पूर्व दिये गये थे। लेकिन जल संस्थान द्वारा कोई कार्य नहीं किया गया। जिस पर मंडलायुक्त ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की। 

इसके साथ ही बैठक में सैनिक पार्क के रख-रखाव के लिए प्रधिकरण द्वारा कांटोमेंट बोर्ड झांसी को 2.50 लाख प्रत्येक छिमाही पर 5 वर्षों के लिए 25 लाख अव्यवस्थापना से दिया जायेगा। जिसमें प्रथम किस्त जारी कर दी गई है। सारंध्रा नगर आवासीय योजना में 508 भूखं डमें मात्र 251 भूखंडो पर मकान बनाकर आवासित है। इीन आवंटियों का जल मूल्य का बिल 2869440 भेजा गया है। जिसमें लगभग 299611 रुपए वसूली कर ली गई है। शेष बिल की वसूली के लिए कैम्प लगाये जाने के निर्देश दिये गये हैं। 

जेडीए की 75 वी बोर्ड बैठक में 13 करोड़ से अधिक अवस्थापना निधि से झांसी शहर की 5 सड़कों की मरम्मत होनी है। जिसमें झांसी से ग्वालियर एनएच-44 से कृषि विश्वविद्यालय तक जाने वाली सड़क का निर्माण, शहर के 10 चौराहों में एलईडी डिस्प्ले लगाया जायेगा। तहसील सदर कैम्प में पार्क तथा 2 रैन वाटर हार्वेस्टिंग के साथ जन सुविधा केन्द्र का निर्माण, पुलिस लाइन में वीवीआईपी विजिट के लिए सेफ हाउस का निर्माण, इलाईट चौराहा से बीकेडी चौराहे तक सड़क सुदृढीकरण का कार्य सहित अन्य कार्य होंगे। 

इस मौके पर जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी, एसडीएम सदर अनुन्य झा, सचिव त्रिभुवन विश्वकर्मा, नगर आयुक्त प्रताप सिंह भदौरिया समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे। 


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।