सड़क पर उतरे किसान, लगाया जाम, हुआ पथराव, पुलिस ने चलाई गोली, कई चुटहिल

By: jhansitimes.com
Feb 13 2018 05:13 pm
269

रिपोर्ट-सैय्यद तामीर उद्दीन महोबा। ओलावृष्टि से बर्बाद हुआ किसान अब सड़क पर आ गया है, मंगलवार को समूचे जनपद में किसानों ने सड़कों को जाम कर दिया। पुलिस और प्रशासन के आलाधिकारियों को जाम खुलवानें में पसीने छूट गये किसान बे मौसम बारिश और ओलावृष्टि से तबाह हुयी फसलों के मुआवजा दिलाये जाने की मांग कर रहे है। 

पनवाड़ी विकास खण्ड में ओलावृष्टि ने किसानों को कहीं का नहीं छोड़ा है, थलौरा और बम्हौरी गांव समेत कोई एक दर्जन गांव के किसानों ने झांसी-मिर्जापुर राष्ट्रीय राज मार्ग पर लगा दिया, यह जाम उन्होंने बम्हौरी गांव के पास से निकली हाई वे सड़क पर लगाया, देखते ही देखते जाम में कई  छोटे बड़े वाहन दोनो तरफ फंस गये किसान मुआवजा दिलाये जाने की मांग कर रहे है, खबर मिलने के बाद एसडीएम कुलपहाड़ राजेश यादव और तहसीलदार अरूण कुमार श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे और उन्होंने किसानों से बात, चीत की किसान लगातार इस जिद पर अड़े रहे कि उन्हें थोथे और खोखले आश्वासन नहीं बल्कि पूरी तरह से संजीदगी भरे वादे चाहिये जिस पर अमल बेहद जल्द किया जाये। प्रशासनिक अधिकारियों के पक्केे भरोसे के बाद यहां के ग्रामीण मान गये है और आश्वासन मिलने के बाद उन्होेंने जाम खोल दिया है, लेकिन यह जाम तकरीबन 6 घण्टे से अधिक समय तक लगा रहा, जिसके चले राष्ट्रीय राज मार्ग पर सैकड़ों वाहन फंस गये इनमें यात्री वाहन भी शामिल है। जिनमें सवार मुसाफिरों का बुरा हाल रहा, हालांकि वाहनों को लेकर नाराज किसानों ने संयम बरता है, छह घण्टे के बाद जब जाम खुला तो इस मार्ग पर यातायात व्यवस्था को सामान्य होने में काफी समय लग गया। 

 किसानों को खदेड़ते एसपी 

 ओलावृष्टि से तबाह हुये किसान गुस्से से लाल है, और वे आपा खो रहे है, लाड़पुर के किसान ओलावृष्टि से तबाह होने के बाद पूरी तरह से आग बबूला है, मुआवजे की मांग को लेकर वह सड़क पर उतर आये है और लगातार नारेबाजी कर रहे है, धीर-धीरे किसान मुआवजे की मांग को लेकर आपा खोने लगे खबर मिली तो पुलिस अधीक्षक और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे जब किसानों से पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी बात-चीत कर रहे है थे तभी किसानों की भीड़ में शामिल कुछ लोगों द्वारा एसपी पर पथराव कर दिया गया, देखते ही देखते मामला बेकाबू होने लगा, तो पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण करने के लिये हवा में फायरिंग कर दी जिससे यहां भगदड़ में कई किसान चुटहिल भी हुये है, पुलिस ने इस मामले में करीब आधा दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूंछतांछ कर रही है। समाचार की इन पंक्तियों के लिखे जाने तक लाड़पुर गांव में तनाव पूर्ण शांति का माहौल था और स्थिति पर नजर रखने के लिये यहां पीएसी के साथ नागरिक  पुलिस जवानों को तैनात किया गया है।   


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।