साक्षात्कार में सफलता के लिए आवश्यक है कौशल, धैर्य एवं मजबूत मनोबल, सर्च करें www.neuvoo.co.in

By: jhansitimes.com
Jul 07 2017 10:36 am
354

हैदराबाद: जब आप किसी नई नौकरी की तलाश में जा रहे है या आप किसी व्यापार के सिलसिले में किसी कार्यालय में पहली बार साक्षात्कार देने जा रहे है तो नये मेजबान के सामने आपकी पहली मुलाकात के समय जो हाव भाव,स्वभाव,प्रभाव पहनावा भाषा शैली और संबंधित विषय में किये गये प्रश्रोत्तर आपके लिए जीवनपर्यन्त स्मरणीय पहचान बनते है उसी के आधार पर आपके जीवन के शुरूआती  कैरियर का प्रारम्भ होता है। पहली बार के साक्षात्कार का बहुत महत्व है, खासकर जब आप नौकरी के लिए आवेदन कर रहे हों आप अपने आप को कैसे प्रस्तुत करेंगे,अपने व्यवहार और योग्यता को परिभाषित करेंगे। यह विचार करना महत्वपूर्ण है कि आप कार्यस्थल और बाहर कामसहयोगियों के साथ अपने आप को कैसे समन्वय करते हैं, यह आपकी छवि और कुशल व्यवसायिकता के मानकों को भी प्रभावित करेगा। 

किसी भी पेशेवर(Professional) के लिए, यह महत्वपूर्ण है कि उनका आचरण अच्छा हो ,चरित्रवान हो, और कार्य के प्रति समर्पण एवं कार्य स्थल पर सदैव उपस्थिति हों।  इसके लिए हमने आवेदकों के लिए काम और कार्य स्थल परएक अपनी पहचान बड़ी छाप बनाने के लिए कुछ युक्तियां एकत्रित की हैं,  सकारात्मक दृष्टिकोण रखें-अपने काम में सहयोगीदल (Team) के काम के लिए हमेशा उत्साह दिखाएं और कार्यालय में सहकर्मियों के साथ सहभागिता बना कर रखें। सभी व्यक्तिगत समस्याओं और निजी आकांक्षाओं को एक तरफ छोड़ दें, यह बहुत अव्यावहारिक है, और नए अवसरों की सकारात्मकता पर ध्यान केंद्रित। समस्या को  कार्य स्थल पर हमेशा पेशेवरे कपड़े पहनेें-यह आपकी नियमित दिनचर्या की सूची के शीर्ष पर होना चाहिए, आपका प्रदर्शन आपका प्रस्तुतीकरण अनुशासन का रिर्पोट कार्ड होता है और यह हमेशा त्रुटिविहीन होना चाहिए। कभी भी अपने निजी छवि के प्रभाव को कम न होने दे ,प्रत्येक अवसर के लिए पहनावे का चयन उचित तरीके सेकरें । और इसे कभी अधिक उत्साह में ज्यादा आधुनिक न बनावें। 

हालांकि दुनिया भर की ज्यादातर कंपनियों के ड्रेस कोड हैं, इसलिए नियम और अनुशासन का पालन करने की कोशिश करें कभी पेशेवर ड्रेसिंग के महत्व को कम नहीं नहीं समझें। यह ड्रेस कोड पूरी तरह से कुशल एवं विशेषज्ञों द्वारा तैयार किया जाता है। आमतौर पर आप देखते होगें कि अधिकांश कुशल औरविश्वसनीयता के लिए हर नौकरीपेशा कर्मचारी पहनावे के साथ शालीन होते है। जबकि कईयों को बेतरतीब रूप में देखा जा सकता है। इसका सीधा प्रभाव कर्मचारी के सामाजिक प्रदर्शन पर पड़ता है। आवश्यकता होने पर है सहायता करने के लिए अनुरोध करेेंं-अगर आप एक नई नौकरी शुरू कर रहे हैं तो आपकोयह जानना चाहिए कि सभी लोग सँस्थान में काम कैसे करते है। हमेशा सहकर्मियों या पर्यवेक्षकों की सुझाव सुनें, यह आपकोअपने काम में समय की बचत करेगा, यह प्रक्रिया हमेश अपनाऐं, हर समय संगठित होने की कोशिश करें, यह आपको बहुत समय भी बचायेगा तथा सहकर्मियों के साथ व्यवहारिकता में समन्वय भी बनेगा। 

 इसलिए आपकी पहली व्यक्तिगत छाप सचमुच महत्वपूर्ण है, अच्छी उपस्थिति रखने के लिए- आपको काम पर समय पर पहुंचना चाहिए और निश्चित समय पर कार्यस्थल छोडऩा चाहिए। हर समय किसी बहाने से या सामान्य बीमारी में देरी से आने के लिए अथवा नहीं आने के लिए कॉल करने का प्रयास नहीं करें, केवल आपातकालीन विषम परिस्थिति को छोड़कर। एक बार जब आप काम की प्रकृति समझ लेते है तो कार्यालय के अन्दर और आस-पास कैसे काम किया जाता है, तब आप कुछ घंटों में ही कार्य की आवश्यकता और समय की मांग अनुसार बदलाव कर सकते हैं, लेकिन प्ररम्भ में आपको एक अच्छा व्यक्तित्व और प्रभावी आचरण का स्वभाव मजबूत बनाना होगा। 

लक्ष्य निर्धारित करें-आगे भविष्य की योजना बनाएं और अपने व्यावसायिक लक्ष्यों के लिए सकारात्मक रूप से काम करें। प्रेरक उद्देश्यों के लिए अपनी निरन्तर सफलता के लिए रास्ता भी बना कर रखें नेटवर्क-विभिन्न पेशेवर और संगठनात्मक कौशल के साथ नए लोगों से मिलने के अवसरों का लाभ उठाएं। यदि आपव्यावसायिक रूप से बढ़ते रहेंगे तो वे जीवन के लिए आपकी स्वयं की एक संपर्क पुस्तक बन जाएंगी। यहां तक कि अगर आप नौकरियों को बदलते हैं, तो हमेशा आपके पास संख्याओं की इस सूची को भविष्य के लिए बनाए रखें।

जब आप किसी नौकरी के लिए आवेदन कर रहे हैं,भारत सहित दूसरे अनेक देशों में नेउवो इंडिया Neuvoo India आपकी सही नौकरी की  खोज और उचित अवसर प्रदान कराने में सहायता कर सकती है।   

 

      Your Job search begins here Neuvoo India login  www.neuvoo.co.in


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।