ये टिप्‍स अपनाएं, दूर करें आंखों के आस पास की झुर्रियां

By: jhansitimes.com
Jan 12 2018 05:52 pm
198

आंखें हमारे शरीर का जितना अहम हिस्‍सा हैं, उतनी की इनके आस-पास की त्‍वचा संवेदनशील भी होती है। उम्र बढ़ने के साथ साथ आंखों के आस पास की त्‍वचा पर झुर्रियां पड़ने लगती हैं लेकिन कुछ लोंगो के तो जवानी में ही ऐसा होना शुरु हो जाता है। चेहरे पर कसाव का कम होना कोलाजेन की कमी की वजह से होता है, जिसकी वजह से झुर्रियां पड़ने लगती हैं। अगर आपकी लाइफस्‍टाइल अच्‍छी नही है या फिर आपका आहार पौष्‍टिक नहीं है तो, आपको यह समस्‍या आ सकती है। 

लेकिन ऐसे कई घरेलू टिप्स हैं, जिसकी मदद से आप आंखों के आस पास की झुर्रियों को कम कर सकती हैं। इसके साथ ही सही समय पर और सही मात्रा में फल, पत्तेदार सब्जियाँ, मछली, और अन्य उम्र बढ़ने से रोकने वाली चीजें, प्रोटीन और मिनरल्स वाला भोजन खाइए। 

1. मोश्चराइजिंग करें 

अगर आपकी स्‍किन में नमी नहीं है तो जाहिर सी बात है कि झुर्रियां पड़ेंगी ही। अगर आप अपनी स्‍किन को पूरी नमी दें या फिर चेहरे पर मॉइस्‍चराजर लगाएं तो महीन रेखाएं कम होती हुई गायब हो जाती है। 

2. हाइड्रेशन 

अगर आप आँखों या पलकों से झुर्रियां हटाना चाहती हैं तो आपको आवश्यक रूप से अधिक पानी पीने की ज़रूरत है। दिन में कम से कम 8 गिलास पानी ज़रूर पीना चाहिए। आपने अक्सर देखा होगा कि ऐसी महिलाएं जो कम पानी पीने की आदत का शिकार होती हैं उन्हें त्वचा से सम्बंधित परेशानियाँ ज्यादा होती हैं। 

3. स्‍क्रब जरुर करें 

रूखी त्‍वचा में अक्‍सर झुर्रियां पड़ने लगती हैं और अगर ड्राई स्किन को समय समय पर स्‍क्रबब कर के ना हटाया गया तो वह त्‍वचा पर जमने लगती है। बाज़ार में मिलने वाले उत्पादों की जगह एक्सफ़ोलिएट करने के लिए घरेलू या प्राकृतिक तरीका बेहतर होता है। 

4. मेकअप से छुपाएं झुर्रियां 

अगर आपके आंखों के आस पास की झुर्रियां कम नहीं हो पा रही हैं, तो मेकअप का भी सहारा लिया जा सकता है। कोशिश करें कि आंखों के आस पास बड़ी ही खूबसूरती के साथ कंसीलर लगाएं। कंसीलर लगाते वक्‍त ब्रश या ऊँगली की मदद से सीधे झुर्रियों वाली जगह पर लगा कर रिंकल्स को कवर करने का प्रयास करें। फिर इसके ऊपर आप फाउंडेशन लगा कर पूरी स्‍किन को बढियां तरीके से कवर कर लें।

 5. आंखों की मसाज कीजिये 

आंखों के आस पास की झुर्रियों को कम करने का सही तरीका है कि आप वहां कि मसाज कर के उस जगह का ब्‍लड सर्कुलेशन तेज कर दें। इससे खून दृारा आंखों की आस पास की नसों को पोषण और ऑक्‍सीजन पहुंचेगा और डैमेज स्‍किन फिर से रिपेयर हो जाएगी। मसाज करने के लिये हमेशा एक अच्‍छी आई क्रीम या फिर तेल जैसे, जैतून तेल या नारियल तेल का प्रयोग करें। 

6. आई मास्‍क लगाने से लौट आएगी रौनक 

आंखों के आस पास की सूजन या झुर्रियों को दूर करने के लिये आई मास्‍क एक बेहतर तरीका है। ऐसे कई DIY eye mask recipes हैं, जो आपको इंटरनेट पर आराम से मिल जाएंगी। इसे हफ्ते में दो या तीन बार लगाएं और तुरंत ही रिजल्‍ट देंखे। आई मास्‍क बनाने के लिये 1/4 कप गरम दूध ले कर उसमें 2 टीस्‍पून ब्राउन शुगर मिला कर ठंडा कर लें। फिर इसे कॉटन ले कर पूरे चहरे तथा आंखों के नीचे लगाएं। इसे 15 से 30 मिनट तक सोखने दें। फिर चेहरे को धो कर एक अच्‍छा मॉइस्‍चराइजर लगा लें।

 7. अपनी डाइट को हेल्‍दी रखें 

आप ने सुना होगा कि आप जो कुछ भी खाएंगे वह आपके शरीर से झलकेगा। स्‍किन के लिये सबसे अच्‍छा आहार होता है जो विटामिन सी से भरा हुआ हो। आपको अपनी डाइट में पपीता, अमरूद, कीवि और सिट्रस से भरे फल खाने चाहिये। यह ना सिर्फ आपके शरीर में एंटीऑक्‍सीडेंट बढाएगा बल्‍कि इम्‍यून सिस्‍टम को भी मजबूत रखेगा। इसके साथ ही गाजर भी खूब खाइये क्‍योंकि इसमें बीटा कैरोटीन होता है, जो स्‍किन को चमकदार और हेल्‍दी बनाए रखने में मदद करता है। अगर आप को नॉन वेज खाना पसंद है तो मछली को भी अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं।


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।