INDvsPAK: विराट, युवराज और पांड्या ने मचाया धमाल, पाकिस्‍तान को दिया 320 रन का लक्ष्‍य

By: jhansitimes.com
Jun 04 2017 08:32 pm
253

बर्मिंघम: चैंपियंस ट्रॉफी में आज महामुकाबले का दिन है. विराट कोहली के नेतृत्‍व वाली टीम इंडिया का सामना सरफराज अहमद के नेतृत्‍व वाली पाकिस्‍तान टीम से हो रहा है. पाकिस्‍तान के कप्‍तान सरफराज अहमद ने टॉस में बाजी मारी और पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. मैच के दौरान दो बार हुई बारिश के कारण ओवरों की संख्‍या कम करके 48 कर दी गई .48 ओवर के बाद टीम इंडिया का स्‍कोर तीन विकेट खोकर 319  रन रहा. कप्‍तान विराट कोहली 81 और हार्दिक पांड्या 20 रन बनाकर नाबाद रहे. शिखर धवन (68), रोहित शर्मा (91) और युवराज सिंह (53 ) आउट होने वाले बल्‍लेबाज रहे.मैच में भारत की ओर से चार अर्धशतक बने.

रोहित-धवन ने दी अच्‍छी शुरुआत

भारतीय पारी के पहले ही ओवर से भारत-पाक की प्रतिद्वंद्विता साफ देखने को मिली. यह ओवर मोहम्‍मद आमिर ने फेंका जिसकी ऑफ स्‍टंप के बाहर रोहित शर्मा बीट हुए. ओवर मेडन रहा. पारी के दूसरे ओवर में स्पिनर इमाद वासिम गेंदबाजी के लिए आए. ओवर में एक वाइड सहित तीन रन बने. आमिर की ओर से फेंके गए पारी के तीसरे ओवर में दो रन बने. शुरुआती ओवरों में पाकिस्‍तानी गेंदबाजों को विकेट से मिल रहे मूवमेंट को देखते हुए भारतीय बल्‍लेबाज अतिरिक्‍त सावधानी बरतते हुए आक्रामक शॉट से परहेज कर रहे थे. पारी के 5वें ओवर की दूसरी गेंद पर रोहित ने चौका लगाते हुए बल्‍ले का मुंह खोला. इस ओवर में 6 रन बने. पांच ओवर के बाद स्‍कोर बिना विकेट खोए 15 रन था. पारी के छठे ओवर में रोहित ने इमाद वासिम को बैकफुट से बेहतरीन चौका जमाया. ओवर में छह रन बने. नौवें ओवर में हसन अली आक्रमण पर लाए गए. रोहित ने इनकी गेंद पर कवर ड्राइव लगाते हुए चौका जमा दिया. ओवर में पांच रन बने. इमाद वासिम की ओर से फेंके गए . 10 ओवर के बाद स्‍कोर 46/0

तेजी से बढ़ता रहा टीम इंडिया का स्‍कोर

11वें ओवर में हसन अली ने बड़ी गलती करते हुए नोबॉल फेंकी जिसका फायदा लेते हुए रोहित शर्मा ने चौका जमा दिया. ओवर में छह रन बने. साझेदारी के 50 रन पूरे हो चुके हैं. पाकिस्‍तान के खिलाफ पिछले 11 मैच में यह दूसरी अर्धशतकीय साझेदारी है.14 वें ओवर में वहाब रियाज को आक्रमण पर लाया गया. पारी का 15वां ओवर हसन अली ने फेंका जिसमें चार रन बने.15 ओवर के बाद स्‍कोर बिना विकेट खोए 66 रन था. 16 वे ओवर में रोहित रन आउट होते-होते बचे. वहाब के इस ओवर में रोहित और शिखर ने एक-एक चौका लगाया. ओवर में 13 रन आए.17वें ओवर में स्पिनर शादाब खान गेंदबाजी के लिए आए. ओवर में पांच रन बने. मैच देखने के लिए मास्‍टर ब्‍लास्‍टर सचिन तेंदुलकर भी स्‍टेडियम में मौजूद थे. 19वें ओवर में शादाब को छक्‍का लगाकर रोहित शर्मा ने अर्धशतक पूरा किया. उन्‍होंने 71 गेंदों का सामना करके छह चौके और एक छक्‍का जमाया. 20वें ओवर में वहाब को शिखर ने दो और रोहित ने एक चौका लगाया. धवन का अर्धशतक 48 गेंद पर पांच चौकों की मदद से पूरा हुआ. 20 ओवर के बाद स्‍कोर 110/0

 शिखर धवन बने स्पिनर शादाब के शिकार

पाकिस्‍तान के खिलाफ रोहित-धवन ने शानदार बल्‍लेबाजी करते हुए शतकीय साझेदारी की. पारी के 21वें ओवर में 11 रन बने. शादाब के इस ओवर में धवन ने छक्‍का भी लगाया. भारत की जोरदार बल्‍लेबाजी जारी थी. 22वें ओवर में ऑफ स्पिनर शोएब मलिक आक्रमण पर लाए गए. ओवर में चार रन बने. पिछली चैंपियंस ट्रॉफी की तरह इस बार भी धवन का शानदार प्रदर्शन जारी रहा. 25वें ओवर में शादाब खान पाकिस्‍तान के लिए पहली सफलता लेकर आए. उन्‍होंने शिखर धवन(68 रन, 65 गेंद, छह चौके एक छक्‍का) को डीप मिडविकेट पर अजहर अली से कैच कराया. पहला विकेट 136 के स्‍कोर पर गिरा. 25 ओवर के बाद स्‍कोर एक विकेट पर 138 रन था. इस दौरान रोहित ने पाकिस्‍तान के खिलाफ अपना पिछला सर्वोच्‍च स्‍कोर बनाया. 28वें ओवर में कोहली ने अपना पहला चौका लगाया. टीम इंडिया का रन औसत इस समय साढ़े पांच रन के आसपास था. भारत के बल्‍लेबाजों के खिलाफ 30वें ओवर में आमिर को आक्रमण पर लाया गया. ओवर में एक रन बना. 30 ओवर के बाद स्‍कोर 162/1

शतक चूक गए रोहित शर्मा

31वें ओवर में हसन अली गेंदबाजी के लिए आए. ओवर में केवल एक रन बना. शिखर धवन के आउट होने के बाद भारतीय रन गति में कुछ गिरावट आई. बारिश की लगातार बाधा के बीच बल्‍लेबाजों को मैच में अपने को एकाग्र करना मुश्किल हो रहा था. यही कारण रहा कि पिछली 31 बॉल पर रोहित सिर्फ 15 रन बना पाए थे. पारी का 35वां ओवर शादाब खान ने फेंका जिसमें दो रन बने. पारी के 36वें ओवर में रोहित ने वहाब को चौका और फिर छक्‍का जमा दिया. इस ओवर में  13 रन बने.पारी के 37वें ओवर में टीम इंडिया को बड़ा झटका लगा जब रोहित शर्मा (91 रन, 119 गेंद, सात चौके, दो छक्‍के) रन आउट हुए. शादाब के इस ओवर में पांच रन बने. 39वें ओवर में युवराज सिंह को जीवनदान मिला जब हसन अली ने युवराज सिंह का कैच छोड़ा दिया. यह कैच कोई खास मुश्किल नहीं था. 40 ओवर के बाद स्‍कोर 213/2.

अंतिम ओवरों में विराट, युवराज और हार्दिक की धूम

पारी का 41वां ओवर हसन अली ने फेंका जिसमें युवराज के चौके सहित 9 रन बने. 42वें ओवर में आमिर गेंदबाजी के लिए आए. ओवर में आठ रन बने. युवराज को दिया गया जीवनदान पाकिस्‍तान को महंगा पड़ता लग रहा था. 43वें ओवर में उन्‍होंने हसन अली के ओवर में चौके और छक्‍के सहित 12 रन ठोक दिए. 44वें ओवर में पाकिस्‍तान को झटका लगा जब आमिर को एक गेंद के बाद ही चोट के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा. यह ओवर वहाब रियाज ने पूरा किया. इस ओवर में कोहली को भी जीवनदान मिला जब स्‍थानापन्‍न खिलाड़ी फहीम अशरफ ने कैच छोड़ दिया. हसन अली की ओर से फेंके गए पारी के 45वें ओवर में कोहली ने छक्‍का और युवराज ने चौका लगाया.  इस ओवर में कोहली ने अपना अर्धशतक पूरा किया. 46 वें ओवर में पिटाई की बारी वहाब की थी जिन्‍होंने ओवर में दो चौके और एक छक्‍का जड़ दिया.  इस ओवर में युवराज ने भी अर्धशतक पूरा किया. युवराज का यह (29गेंद) भारत की ओर से पाकिस्‍तान के खिलाफ दूसरा सबसे तेज अर्धशतक रहा. रिकॉर्ड वीरेंद्र सहवाग के नाम है जिन्‍होंने 26 गेंद पर अर्धशतक बनाया था. ओवर में 21 रन बने. वैसे वहाब ने चोटिल होने के कारण यह ओवर पांच गेंद के बाद ही छोड़ दिया.शेष एक गेंद इमाद वसीम ने फेंकी. 47वें ओवर में 11 रन बने लेकिन टीम को इसमें युवराज (53 रन, 32 गेंद, आठ चौके, एक छक्‍का) का विकेट भी गंवाना पड़ा. 48वें यानी आखिरी ओवर में हार्दिक पांड्या ने पहली तीन गेंदों पर इमाद वसीम को लगातार तीन छक्‍के जमाए. 48 ओवर के बाद टीम का स्‍कोर तीन विकेट पर 319 रन रहा. विराट कोहली 81 (68गेंद, छह चौके, तीन छक्‍के) और हार्दिक पांड्या 20 रन (छह गेंद, तीन छक्‍के) नाबाद रहे. पाकिस्‍तान के सभी गेंदबाज महंगे साबित हुए. हसन अली और शादाब खान को एक-एक विकेट मिला.

दोनों टीमें इस प्रकार हैं..

भारत : विराट कोहली (कप्‍तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, युवराज सिंह, एमएस धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्‍वर कुमार, उमेश यादव और जसप्रीत बुमराह.

पाकिस्‍तान: सरफराज अहमद (कप्‍तान), अजहर अली, अहमद शहजाद, मोहम्‍मद हफीज, बाबर आजम, शोएब मलिक, इमाद वासिम, शादाब खान, मोहम्‍मद आमिर, वहाब रियाज और हसन अली.


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।