लोगों को समझ नहीं आ रहा, जन्माष्टमी आज या कल, कब रखें  व्रत?

लोगों को समझ नहीं आ रहा, जन्माष्टमी ...

श्री हरि विष्‍णु के 8वें अवतार श्रीकृष्‍ण के जन्‍मोत्सव को जन्‍माष्‍टमी ...
सपना,  जो सत्ताधारी यहां की जनता को बीते तीन दशकों से दिखा रहे

सपना, जो सत्ताधारी यहां की जनता को ...

जनश्रुति के अनुसार संवत 1636 के आसपास भादों की अंधेरी रात में यमुना नदी के माध्यम ...
मान्यवर के मिशन की ताकत की बदौलत ही मायावती राजनैतिक रूप से जिंदा है

मान्यवर के मिशन की ताकत की बदौलत ही ...

 लोकसभा चुनाव के पहले समाजवादी पार्टी से गठबंधन, अखिलेश को बबुआ बनाकर लोकसभा ...
बुंदेलखंड विश्वविद्यालय: निर्माण कार्यों में हुआ करोड़ों का घोटाला

बुंदेलखंड विश्वविद्यालय: निर्माण ...

झांसी। बीते वर्षों बुंदेलखंड विश्वविद्यालय को नया रूप देने के लिये कई प्रस्ताव ...
पुरातत्व व् ग्रीनलैण्ड की जमीनों पर कब्जा, हो रही प्लाटिंग, कीमती जमीनों पर भूमाफियाओं की नजर

पुरातत्व व् ग्रीनलैण्ड की जमीनों पर ...

 विशेष खबर । झांसी पूरी तरह से स्थानीय व गैर जनपदीय माफियाओं के जाल में बुरी ...
अवैध खनन: बिना लीज के खुलेआम चल रही पत्थर की खदानें, सीमा से अधिक गहराई में तोड़े जा रहे पत्थर

अवैध खनन: बिना लीज के खुलेआम चल रही पत्थर ...

झांसी। जनपद में कुछ पहाड़ों पर पत्थर तोडऩे की लीज है और कुछ स्थानों पर नहीं है ...
घपलेबाजी: दुकानें झाँसी जिला पंचायत की, किराया वसूल रहा कोई और...

घपलेबाजी: दुकानें झाँसी जिला पंचायत ...

झांसी। बीते वर्षों जिला पंचायत ने जनपद के कस्बों में पंचायत की आय बढ़ाने के ...
जिंदगी की आपाधापी में परिवार का बदल रहा स्वरुप...!

जिंदगी की आपाधापी में परिवार का बदल ...

 दोस्तों आज बदलते और भागदौड़ भरे समय में हमारी जरुरतें और महत्वाकांक्षाएं ...
मित्रों! क्या कोई नेता,नौकरशाह या सत्ताधारी कभी सिपाही या पटवारी की तरह रिश्वत लेते पकड़ा.....

मित्रों! क्या कोई नेता,नौकरशाह या सत्ताधारी ...

मित्रों जिस लोकतंत्र में हम जी रहे हैं,उस पर विचार करें तो ये सोचना स्वाभाविक ...
उज्जवला के साए में अंधेरा कायम, चूल्हे के धुंए से हर साल 8 लाख लोगों की जा रही जान

उज्जवला के साए में अंधेरा कायम, चूल्हे ...

8 लाख लोगों की चूल्हे के धूंए से जा रही जान, आधी आबादी पर चूल्हे के धूंए का खतरा, ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।