लुप्त हुआ नौरता पर्व, अब बुंदेलखंड की गलियों में नहीं गूंजते बालिकाओं के तोतले स्वर

लुप्त हुआ नौरता पर्व, अब बुंदेलखंड ...

(रिपोर्ट-नितिन गिरि/कृष्णा) ललितपुर। बुन्देलखण्ड का प्रमुख पर्व श्नौरता्य ...
पढ़िए, PM मोदी के नाम रवीश कुमार का खुला खत...

पढ़िए, PM मोदी के नाम रवीश कुमार का खुला ...

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी, आशा ही नहीं अपितु पूर्ण विश्वास ...
... जब हुआ 8 फीट लंबे अजगर सीटी स्कैन, देखें PHOTOS

... जब हुआ 8 फीट लंबे अजगर सीटी स्कैन, देखें ...

हम सभी ने अब तक सिर्फ इंसानों का सीटी स्कैन देखा या सुना होगा. लेकिन ओडिशा के ...
विकसित और डिजिटल भारत की हकीकत का आईना दिखाती ये तस्वीर, देख लीजिये-देश बदल रहा है

विकसित और डिजिटल भारत की हकीकत का आईना ...

झांसी। बाहर रोशनी और घर में अंधेरा की कहावत हमारे देश और प्रदेश की सरकार पर सटीक ...
नवरात्र विशेष 2017 : जानें, किस दिन आदि शक्ति के किस रूप की होगी पूजा

नवरात्र विशेष 2017 : जानें, किस दिन आदि ...

आज से शारदीय नवरात्र की शुरुआत हो गई है। घरों में नौ दिनों तक देवी के नौ रूपों ...
नवरात्र का पहला दिन:  होती है मां शैलपुत्री की पूजा, कष्ट होते हैं दूर

नवरात्र का पहला दिन: होती है मां शैलपुत्री ...

नवरात्र के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा होती है इसलिए इन्हें ही प्रथम दुर्गा ...
नवरात्र: हम चर्चा करते हैं वैष्णो देवी की पौराणिक कथा क्या है ?

नवरात्र: हम चर्चा करते हैं वैष्णो देवी ...

उत्तर भारत में स्थित मां वैष्णी देवी का मन्दिर हिन्दुओं की आस्था व श्रद्धा का ...
भारतीय डाक्टर के शोध के बाद जागा अमेरिकी प्रशासन, एंटीबाॅयोटिक दवाओं पर कसी नकेल

भारतीय डाक्टर के शोध के बाद जागा अमेरिकी ...

(रिपोर्ट-प्रदीप कुमार श्रीवास्तव ) नई दिल्ली। भारतीय मूल के एक अमेरिकी डाक्टर ...
बुंदेलखंड: शराब के नशे पर भारी पड़ गया यह नशा, गांव में बह चली बदलाव की बयार

बुंदेलखंड: शराब के नशे पर भारी पड़ गया ...

उरई। जिले का लुधियात इलाका पीढ़ियों से देशी शराब भटिटयों के लिए बदनामी के सागर ...
दूर-दूर से मछलियों को भोजन कराने आते हैं यहां पितृ पक्ष में, होते मत्स्यावतार के दर्शन

दूर-दूर से मछलियों को भोजन कराने आते ...

उरई,: आटा रेलवे स्टेशन के नजदीक परासन गांव में पितृ पक्ष के दौरान पुरखे बेतवा ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।