मुंशी प्रेमचंद...एक लेखक का नहीं बल्कि एक साधना का नाम है...नजर डालिये कुछ खास बातों पर

मुंशी प्रेमचंद...एक लेखक का नहीं बल्कि ...

मशहूर कहानीकार और उपन्यासकार मुंशी प्रेमचंद्र की आज यानी 31 जुलाई को 138वीं जयंती ...
कार्डिक अरेस्ट में कारगर है मोडिफाईड अर्ली वार्निंग स्कोर

कार्डिक अरेस्ट में कारगर है मोडिफाईड ...

रिपोर्ट - प्रदीप श्रीवास्तव, नई दिल्ली। अमेरिका में रहने वाले भारतीय डाक्टर ...
क्या आप जानते हैं, तिरंगा कैसे बना भारत का राष्ट्रीय ध्वज... पढ़ लीजिये

क्या आप जानते हैं, तिरंगा कैसे बना भारत ...

भारतीय राष्‍ट्रीय ध्‍वज को इसके वर्तमान स्‍वरूप में 22 जुलाई 1947 को आयोजित भारतीय ...
हजारों वर्ष तक देश के सबसे विशाल हाथियों का जंगल था कालपी, मानिकपुर में सजती थी मंडी

हजारों वर्ष तक देश के सबसे विशाल हाथियों ...

उरई। देश के चर्चित शहरों पर भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के अधीन सांस्कृतिक ...
जानना जरूरी है, सरकार जल्द ला रही है ड्राइविंग लाइसेंस पर नया नियम

जानना जरूरी है, सरकार जल्द ला रही है ...

नई दिल्ली। घर से जब आप अपनी गाड़ी लेकर बाहर निकलते हैं तो इस बात का हमेशा ...
सूर्य ग्रहण 2018: इस सूर्यग्रहण के वक्त भूलकर भी ना करें ये काम, ऐसे करें दीदार

सूर्य ग्रहण 2018: इस सूर्यग्रहण के वक्त ...

नई दिल्ली : शुक्रवार 13 जुलाई को साल 2018 का दूसरा सूर्यग्रहण (Solar Eclipse) होने वाला है. ...
 दुल्हन ने दूल्हे को पहनाई सांप की माला, कभी देखी है ऐसी शादी

दुल्हन ने दूल्हे को पहनाई सांप की माला, ...

सभी हैरान करने वाला सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है. शादी के इस ...
नाम छोटू काम बड़ा ! लावारिस लाशों का मसीहा, इंसानियत को कुरेदती कहानी

नाम छोटू काम बड़ा ! लावारिस लाशों का मसीहा, ...

उरई। अपने दोस्तों में छोटू के नाम से लोकप्रिय है लेकिन उनका काम सचमुच बहुत बड़ा ...
मकान मालकिन प्रेमिका से शारीरिक संबंध बनाते फंसा बिजनेसमैन, जानकर- चौकें बिना नहीं रह पाएंगे

मकान मालकिन प्रेमिका से शारीरिक संबंध ...

एक युवक को मकान मालकिन प्रेमिका के साथ अपनी पत्नी को धोखा देकर इश्क लड़ाना ...
पढ़िए,भाजपा सरकार की खनन नीति का ये कमाल, जनाव लिफ्टर के जरिये नदी तल से यूँ निकाल रहे मौरम

पढ़िए,भाजपा सरकार की खनन नीति का ये कमाल, ...

बुंदेलखंड: भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश की सत्ता सम्हालने के पहले जनता को सब्जबाग ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।