ग्राउंड रिपोर्ट: गांवों में कोई नहीं जानता महिला संपत्ति के बारे में.... बता रहे, प्रदीप श्रीवास्त

ग्राउंड रिपोर्ट: गांवों में कोई नहीं ...

झांसी।  आज के समय में जब महिलाओं को बराबरी का दर्जा देने के लिए पूरे दुनिया ...
एक ऐसी बिल्ली, जिसकी तीन आंखें और दो मुंह, देखकर हो जायेंगे हैरान

एक ऐसी बिल्ली, जिसकी तीन आंखें और दो ...

 अब तक आप सभी ने दोमुंहें सांप के बारे में देखा सुना है। इनकी कई तस्वीरें सोशल ...
 भारत में विदेश से आईं लड़कियां करती हैं ये काम, पढ़ लीजिये

भारत में विदेश से आईं लड़कियां करती ...

दुनिया के मानचित्र पर भारत एक ऐसी शक्ति के रूप में उभर रहा है जहाँ पर हर तबके ...
 संदिग्ध हरकतों पर नजर रखेगीं स्मार्ट सिटी में स्ट्रीट लाइटें , मौसम का हाल भी बताएंगी

संदिग्ध हरकतों पर नजर रखेगीं स्मार्ट ...

नई दिल्ली: स्मार्ट सिटी परियोजना में शामिल देश के शहरों में स्ट्रीट लाइटें सिर्फ ...
 चलिए जानते हैं, भारत के 5 प्रमुख सर्प उद्यान!

चलिए जानते हैं, भारत के 5 प्रमुख सर्प ...

टी.वी पर आने वाली नागिन की कहानी हो या पौराणिक कथाओं में नागों का उल्लेख, या फिर ...
 कम खर्चे पर इन हिल स्टेशन्स को है आपका इंतजार,  क्रिसमस पर है 3 दिन की छुट्टी

कम खर्चे पर इन हिल स्टेशन्स को है आपका ...

सर्दियां शुरू हो चुकी हैं। एक तरफ सुबह से रात तक की भागदौड़ और दूसरी तरह वादियों ...
क्या आप जानते हैं, आज ही के दिन भारत में गोवा का हुआ था विलय, पढ़ लीजिये -संघर्ष की कहानी

क्या आप जानते हैं, आज ही के दिन भारत ...

गोवा आज देश का एक अभिन्न राज्य है। लेकिन आजादी के वक्त ऐसा नहीं था। आजादी के तकरीबन ...
भारत के इन शहरों में तेजी से बढ़ रही पुरुष सेक्स वर्करों की संख्या

भारत के इन शहरों में तेजी से बढ़ रही पुरुष ...

सिर्फ महिलाओं को ही सदियों से वेश्यावृत्ति शब्द से  जोड़ा जाता है, लेकिन पश्चिमी ...
 भारतीय मूल के डाक्टर ने ढूंढा खतरनाक टीबी का नया रोगाणु

भारतीय मूल के डाक्टर ने ढूंढा खतरनाक ...

( रिपोर्ट - प्रदीप श्रीवास्तव ) नई दिल्ली। भारतीय मूल के अमेरिकी डाक्टर ने टीबी ...
इस भारतीय महिला ने ढूंढा संगीत से यौन बीमारियों के इलाज का तरीका, पूरी दुनिया में हो रही प्रशंसा

इस भारतीय महिला ने ढूंढा संगीत से यौन ...

(Riport, P.K Sriwastav) नई दिल्ली। यह तो सुना है कि संगीत सुनने से लोगों को सुकुन मिलता है, लेकिन ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।