कुछ तस्वीरें, किंग कोबरा और अजगर के बीच हुई खूनी भिड़ंत, पढ़ लीजिये इस लड़ाई का अंत में क्या हुआ हश्र

कुछ तस्वीरें, किंग कोबरा और अजगर के ...

आपने कभी दो सांपों की लड़ाई देखी है? अगर हां तो आप जानते होंगे की उनकी लड़ाई किस ...
अबूझ पहेली बना इस चंदेलकालीन शिव मंदिर का रहस्य, जानिए क्या है खास

अबूझ पहेली बना इस चंदेलकालीन शिव मंदिर ...

हमीरपुर। बुंदेलखंड के जनपद हमीरपुर के सरीला नगर का शल्लेश्वर मंदिर लोगों ...
लड़की जो न्यूड घूम रही है.... दुनिया में करने को बहुत कुछ

लड़की जो न्यूड घूम रही है.... दुनिया में ...

कुछ लोग ऑफिस में ८ घंटे की नौकरी करके भी वो नहीं कर पाते जो लोग महज़ चंद पलों में ...
 गणतंत्र दिवस: ये हैं भारत के संविधान की विशेषताएं...पढ़ लीजिये

गणतंत्र दिवस: ये हैं भारत के संविधान ...

हम 26 जनवरी 2018 को अपना 69वां गणतंत्र दिवस मना रहे हैं । इस दिन हमारा संविधान लागू ...
तो आईये जानते हैं... ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया के बारे में

तो आईये जानते हैं... ड्राइविंग लाइसेंस ...

अगर आप टू व्‍हीलर और फोर व्‍हीलर चलाते हैं तो आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस होना ...
अजीबो-गरीब ग्राहकों की फरमाइशें, जिन्हें सुनकर वेश्याओं के भी छूटने लगते पसीने !

अजीबो-गरीब ग्राहकों की फरमाइशें, जिन्हें ...

भारत में कई ऐसी बदनाम गलियां है जहां वैश्याएं रहती हैं. वैश्याओं की इन गलियों ...
पलायन: बुंदेलखंड में सूखे की मार और रोजगार की तलाश में सूने हो रहे घर-द्वार

पलायन: बुंदेलखंड में सूखे की मार और ...

(रिपोर्ट-न्यूज एडिटर मदन यादव) झाँसी। बुंदेलखंड के किसी भी रेलवे स्टेशन और बस ...
झूम बराबर झूम शराबी, बच्चों की कॉकटेल पार्टी में झूमते नौनिहाल, देखिए तस्वीरों को...

झूम बराबर झूम शराबी, बच्चों की कॉकटेल ...

बड़े शराब पीयें तो उनके बड़े उन्हें बंद करने का आग्रह करतेे हैं। युवा नशा करें ...
नशे की गिरफ्त में भारत का भविष्य, सिल्यूचन व व्हाइटनर से करते हैं आत्मघाती नशा

नशे की गिरफ्त में भारत का भविष्य, सिल्यूचन ...

झाँसी। नशे के सौदागर तो भारत की युवा पीढ़ी को गर्त में धकेल ही रहे हैं। लेकिन ...
मकर संक्रांति का पर्व पर भूलकर भी न करें ये 5 काम

मकर संक्रांति का पर्व पर भूलकर भी न ...

रविवार को सूर्यास्त के बाद सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा। इसी के साथ मकर संक्रांति ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।