सावधान! सिगरेट और शराब के शौक़ीन... दबे पांव आ सकती है मौत

सावधान! सिगरेट और शराब के शौक़ीन... दबे ...

दुनिया में सबसे ज्यादा हृदय रोगी भारत में हैं। इसके अलावा देश में सर्वाधिक मौतें ...
...इसलिए  इंडियन टॉयलेट ही स्वास्थ्य की दृष्टि से है सर्वश्रेष्ठ

...इसलिए इंडियन टॉयलेट ही स्वास्थ्य ...

क्या आप जानते हैं ,घुटनों को मोड़ कर व झुककर बैठना उकडूँ बैठना कहलाता है|  जिसे ...
पढ़िए, कितना फायदेमंद है रात को तरबूज खाना...

पढ़िए, कितना फायदेमंद है रात को तरबूज ...

नई दिल्‍ली: गर्मियां आ चुकी हैं, ऐसे में जरूरत है खुद को हाइड्रेटेड और तरोताज़ा ...
...इसलिए लड़कियों को ही रखा जाता है रिसेप्शनिस्ट

...इसलिए लड़कियों को ही रखा जाता है रिसेप्शनिस्ट ...

आपको अगर किसी भी ऑफिस में जाने के बाद सामने सुंदर-सी महिला रिसेप्शनिस्ट दिख ...
2017 स्पेशल : जानिए वैसाखी त्यौहार से जुड़ी वो बातें जिन्हें कम लोग ही जानते हैं

2017 स्पेशल : जानिए वैसाखी त्यौहार से जुड़ी ...

प्रत्येक वर्ष  बैसाखी का त्यौहार अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार 13 अप्रैल और ...
रूठी गर्लफ्रेंड को मनाने के लिए आजमाएं ये तरीके, पल भर में मान जाएगी

रूठी गर्लफ्रेंड को मनाने के लिए आजमाएं ...

अक्सर लोगों को कहते सुना होगा कि जहां प्यार होता है, वहीं तकरार होती है |  प्यार ...
 पढ़ें यह रिपोर्ट, न चेहरे पर पडेंगीं झुर्रियां और न ही बाल होंगे सफेद...

पढ़ें यह रिपोर्ट, न चेहरे पर पडेंगीं ...

नींद की कमी से बुजुर्गों में अल्जाइमर रोग जैसे कई शारीरिक एवं मानसिक विकार पैदा ...
जिम जाए बिना 30 दिन में कम करें 5 किलो वजन, इन आसान तरीकों को अपनाकर

जिम जाए बिना 30 दिन में कम करें 5 किलो ...

अपनी शादी से पहले वजन कम करना चुनौतीपूर्ण और दबाव भरा हो सकता है। चिंता का स्तर ...
पढ़ें, सबसे सेंसिटिव अंग नाभि के Amazing Facts

पढ़ें, सबसे सेंसिटिव अंग नाभि के Amazing ...

आज हम बात करेगे अपने शरीर के बहुत ही सेंसिटिव अंग की. जिसके अलग-अलग नाम है कोई नाभि ...
पढ़ें 7 फायदे, भीगा चना है बादाम से ज्यादा फायदेमंद, खाने से होंगी ये बीमारी दूर

पढ़ें 7 फायदे, भीगा चना है बादाम से ज्यादा ...

भीगा हुआ चना भीगे हुए बादाम से भी ज्यादा फायदेमंद होता है। आयुर्वेद के चिकित्सकों  के ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।