मिसाइल टेस्ट: कार्रवाई के लिए ट्रंप ने खोले सारे विकल्प, नॉर्थ कोरिया भी मुकाबले को तैयार

By: jhansitimes.com
Aug 30 2017 12:20 pm
185

 अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया के बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण के बाद मंगलवार को चेतावनी दी कि मिसाइल हमले का जवाब देने के लिए उनके सामने सभी विकल्प खुले हुए हैं। वहीं इसके जवाब में उत्तर कोरिया ने कहा कि उसने दक्षिण कोरिया और अमेरिका की ओर से संयुक्त सैन्य अभ्यासों का मुकाबला करने के लिए अपने नेता किम जोंग उन के नेतृत्व में ह्वासॉन्ग-12 मिसाइल का प्रक्षेपण किया। आपको बता दें कि प्योंगयांग द्वारा दागी गयी मिसाइल उत्तरी प्रशांत सागर में गिरने से पहले जापान के ऊपर से गुजरी। परमाणु हथियार संपन्न उत्तर कोरिया द्वारा बैलिस्टिक मिसाइल दागे जाने पर जापान सरकार ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। 

प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी सरकार अपने नागरिकों की रक्षा के लिए प्रतिबद्धता है। उन्होंने उत्तर कोरिया की इस कार्रवाई को अप्रत्याशित, गंभीर और महत्वपूर्ण खतरा बताया है। उत्तर कोरिया ने अपने नेता किम जोंग उन के नेतृत्व में दर्जनों बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षणों का संचालन किया है, जो संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंधों की अवहेलना है। लेकिन जापान के ऊपर मिसाइल का परिक्षण करना असाधारण है। ट्रंप ने एक बयान में कहा कि विश्व को उत्तर कोरिया की ओर से नवीनतम संदेश जोर से और स्पष्ट रूप से मिल गया है। इस शासन ने संकेत दिया है कि वह अपने पड़ोसियों और संयुक्त राष्ट्र के सभी सदस्यों के लिए खतरा है। लेकिन उत्तर कोरिया की इस कार्रवाई का जवाब देने के लिए हमारे सामने सभी विकल्प खुले हुए हैं। व्हाइट हाउस ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने इससे पहले इस मुद्दे पर जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से फोन पर बातचीत की। दोनों नेता इस बात पर सहमत हुए कि उत्तर कोरिया एक गंभीर खतरा है तथा अमेरिका, जापान, दक्षिण कोरिया और विश्व के सभी देशों के लिए सीधा खतरा बढ़ रहा है। इससे पहले 2009 में उत्तर कोरिया की एक मिसाइल जापान के ऊपर से गुजरी थी। उत्तर कोरिया ने पिछले महीने दो अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया था। दक्षिण कोरिया ने कहा कि यह मिसाइल प्योंगयांग के पास सुनान से दागी गयी और यह 550 किमी की अधिकतम ऊंचाई पर उड़ी। इसने करीब 2,700 किमी का रास्ता तय किया। इस दौरान यह उत्तरी जापान के होक्काइदो द्वीप के ऊपर से गुजरी।

उत्तर कोरिया के प्रमुख सहयोगी और मुख्य व्यापारिक साझीदार ने सभी पक्षों से संयम बरतने का आग्रह किया है। चीन के विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि स्थिति चरम पर है, लेकिन दबाव और प्रतिबंधों से मुद्दे का समाधान नहीं होगा। रूस का भी उत्तर कोरिया से संबंध हैं। रूस ने कहा कि यह काफी चिंताजनक है।  

अमेरिका से मुकाबले के लिए तैयार उत्तर कोरिया

उत्तर कोरिया ने कहा है कि उसने दक्षिण कोरिया और अमेरिका द्वारा संयुक्त सैन्य अभ्यासों का मुकाबला करने के लिए अपने नेता किम जोंग उन के नेतृत्व में ह्वासॉन्ग-12 मिसाइल का प्रक्षेपण किया।  उत्तर कोरिया की आधिकारिक समाचार एजेंसी केसीएनए बुधवार को किम जोंग उन के हवाले से कहा,' मौजूदा बैलिस्टिक मिसाइल प्रक्षेपण अभ्यास प्रशांत महासागर और ग्वाम में पहला सैन्य संचालन है। उत्तर कोरिया ने इस महीने के शुरुआत में अमेरिका प्रशांत क्षेत्र और ग्वाम में चार ह्वासॉन्ग-12 मिसाइल छोडऩे की धमकी दी थी। उत्तर कोरिया की यह धमकी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उस बयान के बाद आया था जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर उत्तर कोरिया अमेरिका को धमकी देता है तो उसे और अधिक गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। 


Tags:
comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।