उत्तर प्रदेश: भ्रष्टाचार तुझे सलाम

...

(EDITOR-IN-CHIEF, K.P SINGH ) बिहार में मुजफ्फरपुर के एसएसपी विवेक कुमार की विशेष निगरानी इकाई ...
भाजपा में दलितों का दिल जीतने की कवायद

...

 (EDITOR-IN-CHIEF, K.P SINGH ) दलितों को उपेक्षित करके उन्हें हैसियत में रहने का सबक पढ़ाते-पढ़ाते ...
मेघनाथ के मायावाद के आगे सारे वाद फीके, कैसे हो मायावादी राजनीति से समाज में कोई बदलाव

मेघनाथ के मायावाद के आगे सारे वाद फीके, ...

(editor-in-chief, K.P SINGH ) उत्तर प्रदेश सहित आठ राज्यों में बैंकों के एटीएम एकाएक रीत जाने से ...
बाहुबलियों के ग्लैमर में उलझी उत्तर प्रदेश की राजनीति

बाहुबलियों के ग्लैमर में उलझी उत्तर ...

भाजपा में अटल-आडवाणी युग का पार्टी विद ए डिफरेंस का नारा वर्तमान दौर में अप्रासंगिक ...
अर्श से फर्श पर जा गिरे योगी, आखिर क्यों हुआ ऐसा... बता रहे, प्रधान संपादक के. पी सिंह

अर्श से फर्श पर जा गिरे योगी, आखिर क्यों ...

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की छवि कुछ दिनों पहले भाजपा में ...
मैत्रीय और बंधुता मंच बनाने का विकल्प

...

(EDITOR-IN-CHIEF, K.P SINGH)  गृह युद्ध छिडने के बाद अमेरिका में एकीकरण का नया सूत्रपात हुआ और ...
समूचे विपक्ष के नेतृत्व के लिए कांग्रेस की राह नहीं आसान, बता रहे... प्रधान संपादक के.पी सिंह

समूचे विपक्ष के नेतृत्व के लिए कांग्रेस ...

कांग्रेस के 84वें महाधिवेशन में पीढ़ियों के बीच सत्ता हस्तांतरण की प्रक्रिया ...
उन्नाव में दलित विरोधियों ने कैसे रौंदी प्रधानमंत्री मोदी की भक्ति भावना.... बता रहे, प्रधान संपाद

उन्नाव में दलित विरोधियों ने कैसे रौंदी ...

(EDITOR-IN-CHIEF, K.P SINGH) उन्नाव की बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के हयात नगर गांव में बाबा साहब ...
यूपी में नेतृत्व परिवर्तन के लिए सुगबुगाहट

...

आजमगढ़ के चर्चित पूर्व सांसद रमाकांत यादव ने गोरखपुर और फूलपुर के उपचुनावों में ...
यूपी में बहुजन की उपेक्षा से कैसे चलेगा हिन्दुत्व का कार्ड, पढ़ लीजिए

यूपी में बहुजन की उपेक्षा से कैसे चलेगा ...

(editor-in-chief, K.P SINGH ) हिन्दुत्व की चादर फैलाकर सामाजिक अंतर्विरोधों को ओझल करने की युक्ति ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।