किन्नरों के बारे में आठ ऐसी गुप्त बातें, जिन्हें पढ़कर आप चौक जाएंगे

किन्नरों के बारे में आठ ऐसी गुप्त बातें, ...

किन्नर समुदाय के बारे में ग्रंथों में विस्तार से बताया गया है  किन्नर न ...
पूर्व निर्धारित था योगी का राज्याभिषेक... बता रहे हैं, प्रधान संपादक के.पी सिंह

पूर्व निर्धारित था योगी का राज्याभिषेक... ...

शनिवार की शाम उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री पद को लेकर चल रहा सस्पेंस खत्म हो ...
यूपी में सूर्य कुमार शुक्ला हो सकते नये डीजीपी

यूपी में सूर्य कुमार शुक्ला हो सकते ...

उत्तर प्रदेश में भाजपा ने भूतो न भविष्यतो बहुमत हासिल किया है। यह कहना गलत नहीं ...
बता रहे हैं...समुद्र में डूबा शिव मंदिर जो सुबह होते ही निकल आता बाहर

बता रहे हैं...समुद्र में डूबा शिव मंदिर ...

चमत्‍कारों और विचित्रताओं से भरा देश है भारत  और इसका प्रमाण अक्‍सर मिलता ...
राष्ट्रवाद के नाम पर स्यापे से महाशक्ति बन चुके भारत की हो रही जलालत

राष्ट्रवाद के नाम पर स्यापे से महाशक्ति ...

(K.P SINGH EDITOR-IN-CHIEF) कोउ होय नृप हमैं का हानी जैसे सदियों तक बेखुदी में जीने वाले देश में ...
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस: एक नजर में, कब और क्यों मनाया गया अधिकारों और समानता के संघर्ष का प्रत

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस: एक नजर में, ...

(RIPORT, धर्म विजय सिंह, विशेष संवाददाता  )झांसी।  आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस ...
नई खोज, अब डाइबिटीज का पहले से चल सकता है पता

नई खोज, अब डाइबिटीज का पहले से चल सकता ...

झांसी। भारतीय मूल के डाक्टर विजय सेना रेड्डी डेंडी ने साइलेंट किलर मानी जाने ...
क्या आप जानते हैं , आशीर्वाद के लिए क्यों छुए जाते बड़ों के पैर ?

क्या आप जानते हैं , आशीर्वाद के लिए क्यों ...

हमेशा से ही बड़े-बुजुर्गो और गुरुजनों के पैर छूने के रिवाज भारतीय संस्कृति में रहा ...
बुंदेलखंड में एल्कोहोलिक हेपेटाॅइटिस का डाक्टर चितरंजन ने ढूंढा नया इलाज, पहले से ज्यादा कारगर

बुंदेलखंड में एल्कोहोलिक हेपेटाॅइटिस ...

झांसी। डाक्टर चितरंजन दुवूर अमेरिका में अपने काम से भारतीय प्रतिभा का लोहा ...
चित्रकूट में क्या कह गए संघ प्रमुख, कहीं पीएम मोदी की आत्ममुग्धता पर तो नहीं रहा निशाना

चित्रकूट में क्या कह गए संघ प्रमुख, ...

(EDITOR-IN-CHIEF, K.P SINGH) चित्रकूट में नानाजी देशमुख की सातवीं पुण्यतिथि पर आयोजित भण्डारे ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।