उपचुनाव: बुंदेलखंड में बसपा को जीरो पर पहुँचाने वाले हमीरपुर प्रत्याशी नौशाद बचा पाएंगे अपनी सा

उपचुनाव: बुंदेलखंड में बसपा को जीरो ...

हमीरपुर:. उत्तर प्रदेश विधानसभा उप चुनाव  में बुंदेलखंड की हमीरपुर सीट पर 23 ...
आरक्षण पर चर्चाः भड़कीं मायावती, कहा- RSS आरक्षण-विरोधी मानसिकता त्याग दे तो बेहतर

आरक्षण पर चर्चाः भड़कीं मायावती, कहा- ...

तल्ख अंदाज में बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ...
हत्या प्रदेश बना यूपी,  जब जनता को जान का भरोसा नहीं तो कैसा विकास और किस पर विश्वास?

हत्या प्रदेश बना यूपी, जब जनता को जान ...

सोमवार को समजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सहारनपुर में पत्रकार ...
क्या बीजेपी सांसदों और विधायकों ने विवादित बयानों पर कर रखी है पीएचडी !

क्या बीजेपी सांसदों और विधायकों ने ...

देश में नई सरकार ने सत्ता संभाल ली...एक बार फिर नरेंद्र मोदी ने देश की बागड़ोर प्रचंड ...
बबुआ पर भारी बुआ का हर दांव....अब आगे मायावती की क्या होगी रणनीति

बबुआ पर भारी बुआ का हर दांव....अब आगे मायावती ...

 देश में चुनाव संपन्न हो चुका है...लेकिन देश के सबसे बड़े सूबे में सियासी उठापटक ...
बढऩे लगीं प्रत्याशियों की दिल की धड़कनें, शादी समारोह में भी चर्चायें जीत-हार की, 11 दिन का है और इंतज

बढऩे लगीं प्रत्याशियों की दिल की धड़कनें, ...

चुनाव के परिणाम ग्यारवें दिन घोषित होंगे। हालांकि यह तिथि कई मायनो में अच्छी ...
लोकसभा चुनाव निपटते ही - वो कहावत सही हो रही मतलब निकल गया पहचानते नहीं

लोकसभा चुनाव निपटते ही - वो कहावत सही ...

चुनाव में याद आती है मतदाताओं की। जैसे ही चुनाव व्यतीत होते हैं, और प्रत्याशी ...
 बेरोजगारों को चौकीदारी नहीं, स्थायी रोजगार चाहिए : अखिलेश यादव

बेरोजगारों को चौकीदारी नहीं, स्थायी ...

लखनऊ : सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा के 'मैं भी चौकीदार' अभियान ...
काश! टीशर्ट की मार्केटिंग में व्यस्त BJP शिक्षामित्रों पर ध्यान देती

काश! टीशर्ट की मार्केटिंग में व्यस्त ...

नई दिल्ली:   कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शिक्षामित्रों और अनुदेशकों ...
 कांग्रेस में बगावत की आवाज, नेता बोले-कोई नहीं जानता, ये पैराशूट नहीं आसमान से गिरे उम्मीदवार हैं

कांग्रेस में बगावत की आवाज, नेता बोले-कोई ...

मुरादाबाद : कांग्रेस ने लोकसभा उम्मीदवारों की सातवीं सूची जारी की,जिसमें उन्होंने ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।