भाजपा पर राजबब्बर का तंज, बदला बेटी बचाओ का नारा बेटी पिटवाओ में

By: jhansitimes.com
Sep 26 2017 08:18 am
104

वाराणसी: बीएचयू विवाद को लेकर भाजपा पर निशाना साधते हुए उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर ने  कहा कि इंदिरा जी जेएनयू में विरोधी प्रदर्शन में मुड़कर पहुंचने की हिम्मत रखती थीं, जबकि आज के प्रधानमंत्री गलियों से रास्ता बदल कर निकल गए, लेकिन बीएचयू में प्रदर्शन कर रहीं काशी की बेटियों के बीच पहुंचने की हिम्मत नहीं दिखाई|  परिणाम आपके सामने है कि बेटी बचाओ का नारा बेटी पिटवाओ में बदल गया|  राज बब्बर सोमवार को रामनाथ शोध संस्थान में आयोजित दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का जन्म शताब्दी वर्ष समारोह को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि इंदिरा जी की विरासत छद्म राष्ट्रवाद के विपरीत उत्कट देशभक्ति की विरासत है.

अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सांसद सुष्मिता देव ने कहा कि शिक्षा संस्थान में महिलाओं का पिटना दुर्भाग्यपूर्ण है. इंदिरा जी की विरासत का संदेश यह है कि नारी का सशक्तीकरण शिक्षा से होगा, रसोई से नहीं. सांसद पीएल पुनिया ने कहा, "इंदिरा का जीवन किसान, मजदूर, गरीब और दलितों के उत्थान की लड़ाई के लिए था. आज दलितों के पास कहीं कुछ भूमि है तो उसके पीछे इंदिरा जी और उनका भूसुधार है." 

सांसद प्रमोद तिवारी ने कहा कि वर्तमान विदेश मंत्री के संयुक्त राष्ट्र के ताजा भाषण ने कांग्रेस और इंदिरा जी के काल के राष्ट्रनिर्माण के महान कामों पर मुहर लगा दी है. लगता है साठ साल को झूठा ही कोसते रहने वाले प्रधानमंत्री से उनका मनभेद शुरू हो गया है. सांसद संजय सिंह ने कहा कि सतहत्तर के दौर में इंदिरा जी की बेमिसाल संघर्षशक्ति को जगा लीजिए, कांग्रेस की जीत पक्की हो जाएगी.


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।