राजनाथ सिंह की होगी छुट्टी, अमित शाह बनेंगे देश के नए गृह मंत्री !

By: jhansitimes.com
Jul 28 2017 11:25 am
5386

पूरे देश में छल कपट से सत्ता हासिल करने वाली बीजेपी अपने दाग को धोने के लिए एक बड़ा निर्णय लेने जा रही है। संघ के सूत्रों की माने तो मोदी सरकार में नंबर दो कहे जाने वाले राजनाथ सिंह की छुट्टी होने वाली है और उनकी जगह भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह होंगे नए गृहमंत्री| देश में सभी मुद्दे पर फेल रहने वाली बीजेपी के खिलाफ माहौल बन चूका है, महगाई, पेट्रोल डीजल के बढ़ती कीमते, सिलेण्डर की कीमते, दो करोड़ रोजगार की जगह एक भी नहीं,पाकिस्तान से लगातार हमले, चीन की घुसपैठ, गौ रक्षा की आड़ में गौ गुंडों से दलितों और मुसलमानो को मरवाने का कलंक लिए बीजेपी की फ्लॉप सरकार पर रोज सवाल उठ रहे है।

ऐसे में मोदी के ये कदम भारतीय राजनीति और भाजपा के लिए काफी फायदेमंद और अहम होंगे. क्योंकि एक धडा इन सभी मसलों पर राजनाथ सिंह को भी दोषी मानता है और यहाँ तक कि लोग अब राजनाथ सिंह को निंदानाथ सिंह के नाम से बुलाने लगे हैं। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का तो तब पता चलता है जब कोई उनसे ट्वीट कर मदद माँगता है कि हम दुबई में फास गए हैं हमको निकालो। ऐसा लगता है की सुषमा लोकल विदेश मंत्री है जो अपने देश में बैठकर ट्वविटर पर समस्या हल करती हैं।

भाजपा संसदीय बोर्ड की बुधवार को हुई बैठक में फैसला किया गया कि अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी गुजरात से  राज्यसभा के उम्मीदवार बनेंगे. वह गुजरात से आठ अगस्त को होनेवाला राज्यसभा का चुनाव लड़ेंगे और विधानसभा में भाजपा के संख्या बल को देखते हुए यह तय है कि उन्हें जीत मिलेगी. भले अभी भाजपा में मोदी-शाह जोड़ी की धाक हो लेकिन राजनाथ सिंह की अपनी सांगठनिक हैसियत है और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वे बेहद करीब व भरोसमंद हैं. हालांकि अब तक संघ का हस्तक्षेप मौजूद सरकार में नहीं दिखा है और मोदी सरकार अपने निर्णय लेने में स्वतंत्र नजर आ रही है. ऐसे में किसी भी संभावना को खारिज करना मुश्किल है.ध्यान रहे कि जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब अमित शाह वहां के गृहमंत्री थे. ऐसे में यह जोड़ी केंद्र सरकार में भी इस रूप में दिखे तो आश्चर्य नहीं किया जा सकता है. अगर ऐसा होता है तो राजनाथ सिंह को रक्षा मंत्रालय भेजा जा सकता है, जहां अब भी एक पूर्णकालिक मंत्री की जरूरत है. वही कुछ और सूत्रों की माने तो राजनाथ सिंह गुजरात के प्रभारी या राज्यपाल बनाकर भेजे जा सकतें है, गौरतलब है गुजरात में भी चुनाव होने वाले है और वहां पर जीतना भाजपा के लिए चुनौती और नाक के लिए है.

 अमित शाह का हो रहा कार्यकाल  पूरा

 अमित शाह का भाजपा अध्‍यक्ष पद पर यह दूसरा टर्म है. पार्टी के संविधान के अनुसार कोई व्यक्ति दो बार से ज्यादा इस पद पर लगातार नहीं बने रह सकता है. अमित शाह का कार्यकाल जनवरी 2019 में समाप्त होगा. इसी साल अप्रैल-मई में लोकसभा के चुनाव होंगे. इस चुनाव के मद्देनजर पार्टी और सरकार में और भी फेरबदल होने के कयास लगाये जा रहे हैं.

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पहले से ही राज्यसभा सांसद हैं. उनका कार्यकाल 18 अगस्त को खत्म होनेवाला है. शाह वर्तमान में गुजरात से विधायक हैं. दोनों के नामों की घोषणा पार्टी के वरिष्ठ नेता और पार्टी  महासचिव जेपी नड्डा ने पार्टी के संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद बुधवार शाम की. गुजरात और पश्चिम बंगाल से राज्यसभा के नौ सदस्यों का कार्यकाल 18 अगस्त को समाप्त हो रहा है. इनमें ईरानी, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी और तृणमूल कांग्रेस नेता डेरेक ओ ब्रायन शामिल हैं. डेरेक ओ ब्रायन को तृणमूल कांग्रेस ने फिर से राज्यसभा उम्मीदवार भी बनाया है.


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।