पशुपालन, मत्स्य पालन व कुक्कुट पालन की दी सलाह

By: jhansitimes.com
Jun 11 2019 09:51 pm
100

झांसी। उपनिदेशक भूमि संरक्षण उत्तम कुमार ने द मिलियन फार्मर्स स्कूल (किसान पाठशाला) के द्वितीय दिवस पर ग्राम खजराहा बुजुर्ग ब्लाक बबीना में किसानों के मध्य व्यक्त की। उन्होंने कहा कि पाठशाला में विषय विशेषज्ञों द्वारा महत्वपूर्ण जानकारियों को आत्मसात करते हुये खेती कार्य में शामिल करते हुये आय दोगुनी करें। जानकारियों के साथ उचित प्रबंधन से खेती-किसानी को हम लाभदायक बना सकते हैं। पारम्परिक खेती के साथ ही पशुपालन, मत्स्य पालन, कुक्कुट पालन के द्वारा भी किसानों की आय दोगुनी की जा सकती है।
डीडी भूमि संरक्षण उत्तम कुमार ने कहा कि बुवाई से पूर्व भूमि प्रबंधन महत्वपूर्ण है। फसल उत्पादन के लिये सबसे पहला कदम खेत की तैयारी है, जिसके लिये जुताई करके खेत को बुवाई योग्य बनाना है। उन्होंने मृदा परीक्षण कराये जाने का भी सुझाव दिया ताकि यह ज्ञात हो सके कि हम कौन सी फसल लें, जो लाभ दे सके। पाठशाला में कार्यक्रम प्रभारी दीपक कुशवाहा विषय वस्तु विशेष ने किसानों को बुंदेलखंड की परिस्थितियों में और अनुकूलता को देखते हुये किन फसलों का चयन किया जाना है तथा अपने उत्पादन की लागत को कम करते हुये बाजार की मांग अनुसार बिचौलियों के बिना अपने उत्पाद विक्रय को कैसे किया जाना है, बिंदुवार बताया। उन्होंने कहा कि खरीफ के पारंपरिक दौर में हरी खाद का प्रयोग कर खेत की उर्वरा शक्ति तथा नमी संचयन को बढ़ाये जाने की सलाह दी। इसके साथ ही उन्होंने खेत के हर खाली जगह पर वृक्षारोपण करने का सुझाव दिया। इस मौके पर ग्राम प्रधान हरनाम, मास्टर ट्रेनर विजय बुन्देला, कृषक श्रीमती शांति देवी, उत्तम सिंह, रामसिंह, श्रीमती विमलादेवी, श्रीमती वती, नाथूराम सहित अन्य विभागीय कर्मचारी व किसान उपस्थित रहे।


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।