We found 9 result for: madhay pradesh


मध्य प्रदेश की शर्मनाक तस्वीर, 1.5 माह के मासूम का शव लेकर मीलों पैदल चले माता-पिता

Jun 23 2017 01:51 pm
266

सरकार हर उस दावे की पोल खोल रही है मध्यप्रदेश के आलीराजपुर जिला अस्पताल की ये तस्वीर | एक डेढ़ माह के मासूम की मौत के बाद उसके शव को घर ले जाने के लिए शव वाहन उपलब्ध न होने के चलते मासूम बच्चे के शव को लेकर माता-पिता को घर की ओर पैदल ...

किसान ! जान देने के बाद जान लेने की बारी

Jun 18 2017 07:24 am
104

(editor-in-chief, K.P SINGH) अभी तक किसान जान दे रहे थे तो सत्ता के गलियारों में उनकी कीमत नहीं थी लेकिन पानी से सिर से ऊपर निकलने के बाद जब उन्होंने यह जता दिया है कि वे अपने हक को सत्ता प्रतिष्ठान से खूंखार मुठभेड़ करके लेने पर भी आमादा हो सकते हैं तो ...

ये है 20 करोड़ की ब्रा...जड़े हैं हीरे और जवाहरात... देखें मॉडल की सुपर हॉट तस्वीरें

Jun 14 2017 05:26 pm
90

आपने इस दुनिया में कितनी ही अजीबो-गरीब महंगी चीजों के बारे में सुना पढ़ा होगा लेकिन क्य कभी आपने 20 करोड़ की ब्रा के बारे में सुना है। सुनकर चौंक गए ना?..ये सच है। महिलाओं के अंडर गार्मेंट्स बनाने वाले एक ब्रैंड ने 20 करोड़ की ब्रा डिजाइन ...

जायज मांगों के मंदसौर आंदोलन पर भाजपा किसानों पर बरसा रही लाठियां और गोलियां, बोलीं- मायावती

Jun 08 2017 07:47 pm
396

लखनऊ: बसपा प्रमुख मायावती ने मध्य प्रदेश के मंदसौर में हिंसक प्रदर्शन और पुलिस फायरिंग में हुई किसानों की मृत्यु पर दु:ख व्यक्त किया |  मायावती ने राज्य की भारतीय जनता पार्टी के सरकार पर दमनकारी रवैया अपनाने का आरोप लगाया ...

कहां चली गईं मध्य प्रदेश की 23 लाख गर्भवती महिलायें?, सच जानने के लिए पढ़ें ये खबर

Mar 29 2017 09:24 am
389

मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार में पिछले पांच सालों में तकरीबन 93.7 लाख गर्भवती महिलाओं ने प्रसव पूर्व देखभाल के लिए अपना पंजीकरण करवाया था पर प्रसव सिर्फ 69.8 लाख के हुए। ऐसे में सवाल उठता है कि बाकी 23.9 लाख गर्भवती महिलाओं का क्या हुआ? ...

भाजपा शासित इस राज्य में मानवता शर्मसार: बाइक पर पिता के शव को बांधकर किया 22 किमी का सफर

Feb 14 2017 12:49 pm
470

कांकेर:   एक बार फिर मानवता शर्मशार हुई है छत्तीसगढ़ में । सरगुजा संभाग के बाद अब बस्तर संभाग के कांकेर में एक बेटे को अपने पिता का शव मोटरसाइकिल में बांधकर पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाना पड़ा। उसके पिता महादेव मंडल ने फांसी लगा ली ...

प्रेमी से मिलने फ्लाइट से आती थी गर्लफ्रेंड, पोल खुली...

Feb 05 2017 09:53 am
2009

भोपाल:  हाईप्रोफाइल आकांक्षा शर्मा केस में पुलिस अब तक हत्या के पीछे की असल वजह तलाश रही थी। लेकिन, हत्यारे के दिए ताजा बयान के मुताबिक, वह अपनी गर्लफ्रेंड आकांक्षा से पिछले सात साल से लगातार झूठ बोलकर उस धोखा दे रहा था। इसके बाद अचानक ...

... जब सात फेरे छोड़ नोट लेने बैंक पहुंची दुल्हन

Nov 23 2016 10:11 pm
406

बड़वानी, एमपी :  नोटबंदी के बाद RBI की सात शर्ते शादी के सात फेरों पर भारी पड़ रही है, शादी वाले घरों में लोग शादी की तैयारियां छोड़कर कैश की कतारों में लगे  हैं। मध्य प्रदेश के बड़वानी में तो एक दुल्हन शादी के दिन खुद नोट लेने के ...

खबर छापने से नाराज भाजपा ने पत्रकार पर किया जानलेवा हमला

Oct 14 2016 11:17 am
132

मध्यप्रदेश :  हिंदी दैनिक के पत्रकार आशीष विश्वकर्मा को भाजपा नेता ने घर बुलाया और तलवार से जानलेवा हमला कर दिया । हमले में घायल पत्रकार को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। आरोप है कि एक खबर छापे जाने से नाराज ...


Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।