जिले के 50 गांव अन्त्योदय योजना के लिये किये गये चयनित: डीएम

By: jhansitimes.com
Jan 13 2018 06:09 pm
92

(रिपोर्ट-सैय्यद तामीर उद्दीन) महोबा। शासन के निर्देशानुसार जनपद में मिशन अन्त्योदय योजना के अन्तर्गत 50 गांव चयनित किये गये हैं, जो विकास खण्ड वार जैतपुर में बड़खेरा, अकौना, महुआ बांध, रजौनी, सुगिरा, सतारी, बिहार, गुढ़ा व छितरवारा, पनवाड़ी में अण्डवारा, रिछा, महुआ इटौरा, किल्हौआ, जखा, बैंदो, नगारा घाट व भरवारा, चरखारी में कुंआ, पाठा, बारी, खरेला देहात, पहरेथा, पुपवारा, धवारी, गुढ़ा, अकठौंहां, करहरा खुर्द, सालट, गोरखा, जरौली, कुरारा डांग व नटर्रा तथा कबरई में खरका, सिरसी कलां, लिलवाही, ग्योंड़ी, सिंघनपुर बघारी, छानी कला, डहर्रा, कबरई देहात, रतौली, मझलवारा, सलारपुर, करहरा कलां, सुकौरा, बसौरा, गहरा, बहिंगा, अकबई एवं कहरा हैं।

जिसमें विभिन्न विभागों द्वारा विकास कार्यक्रमों की भारत सरकार तथा उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलायी जा रहीं योजनाओं से चयनित ग्रामों को एक हजार दिनों में लक्ष्यों को पूरा करने के निर्देश दिये गये हैं।एक हजार दिनों के पश्चात मिशन अन्त्योदय के अन्तर्गत चयनित ग्रामों की समीक्षा भारत सरकार द्वारा की जानी है।उक्त ग्रामों में विकास कार्यों की रूपरेखा तैयार करने हेतु तथा लक्ष्य प्राप्ति हेतु जनपद के समस्त विभागीय अधिकारियों के साथ विकास भवन सभागार में जिलाधिकारी राम विशाल मिश्रा की अध्यक्षता एवं उपायुक्त सोशल ऑडिट उमेेशमणि त्रिपाठी की उपस्थिति में बैठक आयोजित की गयी, जिसमें जिलाधिकारी महोदय ने समस्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि  चयनित मिशन अन्त्योदय के ग्रामों को भारत सरकार तथा राज्य सरकार की योजनाओं से संतृृप्तिकरण हेतु विकास खण्डों से बेसलाइन सर्वे के आंकडे प्राप्त कर, कार्ययोजना तैयार कर एक सप्ताह के अन्दर मुख्य विकास अधिकारी महोबा को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।साथ ही उन्होनें बताया कि मिशन अन्त्योदय का मुख्य उद्देश्य गरीबी उन्मूलन, आजीविका निर्माण तथा सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना है।इस दौरान उन्होनें समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों में आजीविका मिशन का विस्तार करायें, कैम्प लगवाकर श्रमिकों तथा कृृषकों का पंजीकरण करायें तथा पिछले वर्ष की अपूर्ण योजनाओं को पूर्ण करायें।उन्होनें ये भी कहा कि उक्त 50 गांवों में सभी अधिकारी अपनी-अपनी योजनाओं को शत-प्रतिशत लागू करें।उन्होनें समस्त अधिकारियों को जागृृत करते हुए कहा कि हम सभी राजकीय तंत्र/सिस्टम में हैं, जिसका मुख्य उद््देश्य पृृथ्वी, पेड़, पानी, पशु तथा प्राण की रक्षा करना है।

     बैठक में उपायुक्त सोशल ऑडिट ने बताया कि समस्त अधिकारी अपने-अपने मोबाईल पर ‘‘ग्राम संवाद’’ एप्प डाउनलोड कर अपने-अपने विभागों द्वारा संचालित स्कीमों को देख सकते हैं।इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी शंकर लाल त्रिपाठी, उपजिलाधिकारी सदर मृृदुल चौधरी, जिला विकास अधिकारी विनय तिवारी, परियोजना निदेशक आर.एस.गौतम, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एस0के0वार्ष्णेय, उप निदेशक कृृृषि जी.राम., अधिशाषी अभियन्ता विद्युत नन्हू सिंह, अपर जिला सूचना अधिकारी सतीश कुमार यादव सहित जनपद के समस्त अधिकारीगण उपस्थित रहे।  


comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।