शर्मनाक: पीड़िता बोली- भाई और सगे बेटे ने बनाया हवस का शिकार , जलती लड़की रखी गर्दन पर और..

शर्मनाक: पीड़िता बोली- भाई और सगे बेटे ...

रिश्तों को शर्मसार कर देने वाला मध्य प्रदेश के जबलपुर में मामला सामने आया है। जिसमें एक ...
पढ़े, निकाह के दिन पहले दुल्हन पहुंची थाने... और फिर

पढ़े, निकाह के दिन पहले दुल्हन पहुंची ...

टीकमगढ़। मध्य प्रदेश में टीकमगढ़ के मोहल्ला कुमैदान के एक घर शादी का माहौल था। ...
घर में घुसा मगरमच्छ चारपाई के नीचे छिपा, पिता-पुत्र ने दिखाया साहस, पकड़कर रस्सी से बांधा

घर में घुसा मगरमच्छ चारपाई के नीचे ...

शिवपुरी :  रात्रि में मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में चिंताहरण मंदिर इलाके ...
फेसबुक पर पहले दोस्ती, फिर LOVE, अंत में दुष्कर्म

फेसबुक पर पहले दोस्ती, फिर LOVE, अंत में ...

पहले फेसबुक पर दोस्ती, फिर अफेयर के बाद चार माह तक महिला से  दुष्कर्म । आरोपी ...
ये वो 12 सवाल हैं, जिस कारण सिमी आतंकियों के एनकाउंटर पर सियासत हो रही गर्म

ये वो 12 सवाल हैं, जिस कारण सिमी आतंकियों ...

मध्य प्रदेश की सेन्ट्रल जेल भोपाल से सोमवार को सिमी के 8 आतंकियों के जेल से फरार ...
अजब मध्य प्रदेश का गजब एनकाउंटर: सेन्ट्रल जेल है या...मजाक, कहां से आये महंगे जूते,जींस टीशर्ट

अजब मध्य प्रदेश का गजब एनकाउंटर: सेन्ट्रल ...

भोपाल :  एक तरफ देश के प्रतिष्ठित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से 17 दिनों ...
चश्मदीदों ने बताया सेन्ट्रल जेल भोपाल से फरार आठों आतंकियों को इस तरह मारा पुलिस ने

चश्मदीदों ने बताया सेन्ट्रल जेल भोपाल ...

भोपाल:   सेन्ट्रल जेल से फरार सिमी के सभी 8 आतंकियों को पुलिस ने मुठभेड़ में ...
सेन्ट्रल जेल भोपाल से फरार आठों आतंकी पुलिस मुठभेड़ में ढेर

सेन्ट्रल जेल भोपाल से फरार आठों आतंकी ...

भोपाल:   रविवार रात सेंट्रल जेल भोपाल में गार्ड की हत्या कर फरार हुए सभी ...
भोपाल सेन्ट्रल जेल के गार्ड की हत्या कर सिमी के 8 आतंकी फरार , मचा हड़कंप

भोपाल सेन्ट्रल जेल के गार्ड की हत्या ...

भोपाल:  सिमी के आठ आतंकी सेंट्रल जेल भोपाल के गार्ड की हत्या कर फरार हो ...
मां ने बेटी के पति को फंसाया प्रेमजाल में, उसके बाद किया वो काम...जानकर हो जायेंगे शर्मसार

मां ने बेटी के पति को फंसाया प्रेमजाल ...

BHOPAL:  रिश्तों को शर्मसार करने वाली इस घटना में एक महिला पुलिस गुहार लगाते हुए ...

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।