UP BREAKING: निर्माणाधीन पुल का पिलर गिरा, नीचे दबी कई गाड़िया, दो दर्जन से अधिक की मौत

By: jhansitimes.com
May 15 2018 07:31 pm
2113

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में कैंट स्टेशन के नजदीक निर्माणाधीन पुल का एक पिलर गिर गया। जिसके नीचे आधा सैकड़ा से अधिक राहगीर और वाहन दबे होने की खबर आ रही है। जबकि प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार दो दर्जन लोगों की मौत होना बताया जा रहा है। सूचना पर पहुंचे अधिकारियों और कर्मचारियों ने राहत कार्य शुरु कर दिया। 

बताते चलें कि वाराणसी में सिगरा थाना क्षेत्र के तहरतारा में स्टेशन के नजदीक कैंट इलाके में फ्लाईओवर ब्रिज का निर्माण कराया जा रहा है। जिस पर अर्से से निर्माण कार्य चल रहा था। मंगलवार शाम अचानक इसका एक हिस्सा गिर गया। इसमें मौके पर मौजूद कई गाड़ियां दब गई। वहीं कई लोग भी दब गए।

1- जॉब चाहिए हमारे पास आईए, अपने रिज्‍यूम और आधार कार्ड के साथ मिलें, इण्‍डिया प्‍लेसमैण्‍ट, इलाहाबाद बैंक चौराहे के पास, सदर बाजार रोड, सिविल लाईन्‍स, झांसी

सम्पर्क करें- 06392325259

2- झांसी विकास प्राधिकरण द्वारा स्वीकृत प्लाट बिकाऊ है, आसान किस्तों पर, इंजीनियरिंग कालेज के पास कानपुर रोड दिगारा भगवंतपुरा बाईपास रोड झांसी पर 

सम्पर्क करें- 08858888829, 07617860007, 09415186919, 08400417004

हाल ही में उप मुख्यमंत्री सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने यहां का दौरा कर पुल का निर्माण पूरा करने का आदेश दिया था। सीएम योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख जताया है। उप मुख्यमंत्री केशव मौर्या वाराणसी के लिए रवाना हो रहे हैं। एनडीआरएफ की तीन टीमें मौके पर मौजूद। डीएम रामेश्वर मिश्रा ने कहा कि बचाव कार्य के बाद जांच की जाएगी कि ये हादसा कैसे हुआ। वाराणसी पीएम नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है। चुनाव में जीत के बाद से ही मोदी यहां विशेष ध्यान दे रहे हैं। पीएम मोदी ने सीएम योगी से बात कर मामले की जानकारी ली, उन्होंने कहा किसी तरह की मदद चाहिए तो उसे केंद्र मुहैया कराएगा।


Tags:
UP
comments

Create Account



Log In Your Account



छोटी सी बात “झाँसी टाइम्स ” के बारे में!

झाँसी टाइम्स हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल है। इसे पढ़ने के लिए आप http://www.jhansitimes .com पर लॉग इन कर सकते हैं। यह पोर्टल दिसम्बर 2014 से वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई की नगरी झाँसी (उत्तर प्रदेश )आरंभ किया गया है । हम अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते “ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। अपने सहयोगियों की मदद से जनहित के अनेक साहसिक खुलासे ‘झाँसी टाइम्स ’ करेगा । बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर पोर्टल ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।

झाँसी टाइम्स में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल ‘कवरेज’ तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को झाँसी टाइम्स की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।

अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘झाँसी टाइम्स ’ लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। ‘झाँसी टाइम्स ‘ के पास समर्पित और अपने क्षेत्र में विशेषज्ञ संवाददाताओं, समालोचकों एवं सलाहकारों का एक समूह उपलब्ध है। विनोद कुमार गौतम , झाँसी टाइम्स , के प्रबंध संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 16 वर्षों का अनुभव है। के पी सिंह, झाँसी टाइम्स के प्रधान संपादक हैं।

विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से ‘झाँसी टाइम्स ‘ जो एक हिंदी वायर न्यूज़ सर्विस है वेब मीडिया के साथ-साथ पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहेगा।