अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

बुन्देलखंड

90 साल पुराने मेले की तैयारियां जोर- शोर से

Views

(रिपोर्ट-सैय्यद तामीर उद्दीन) महोबा। कस्बा बेलाताल में 90 साल पुराने ऐतिहासिक मकर संक्राति मेले की तैयारियां जोर,शोर के साथ अंतिम चरण पर है। यहां मेले की शुरूआत मकर संक्राति पर्व से की जाती है। 1931 में ब्रिटिश गवर्नर के द्वारा की गयी थी। इसमें रघुनाथ मन्दिर के तत्कालीन प्रबन्धक पण्डित हरप्रसाद अरजरिया व जमीदार स्वामी प्रसाद अग्रवाल की अहम भूमिका रही है।
पहले यह मेला बेलासागर तट बंध पर लगा करता था। लेकिन जगह की किल्लत होने के बाद मन्दिर प्रबन्धक पं0 हरप्रसाद ने इसे रघुनाथ मन्दिर के प्रांगण में लगाने के लिये इजाजत दी थी।
मेला की शुरूआत करने में ब्रिटिश गवर्नर के अलावा रघुनाथ मन्दिर के तत्कालीन प्रबन्धक और उस वक्त के जमीदार स्वामी प्रसाद अग्रवाल ने भी अपनी अहम भूमिका निभाई थी। दोनों ही लोगों ने तब खासी भागदौड़ करके मेले की शुरूआत करायी थी। शुरूआत मे यह मेला बेलासागर के तट बंध पर लगता रहा, लेकिन बाद में यहां जगह की किल्लत खड़ी होने के बाद मन्दिर के प्रबन्धक द्वारा रघुनाथ मन्दिर के प्रांगण में मेला लगाने की इजाजत दे दी गयी । तब से यह मेला रघुनाथ मन्दिर के प्रांगण में लगता चला आ रहा है। 90 साल पुराना ऐतिहासिक मेला तब से यथावत मकर संक्राति पर लगता चला आ रहा हैं। सात दिन तक चलने वाले इस मेले की शुरूआत मकर संक्राति यानी 14 जनवरी से होगी, सर्दी को दृष्टिगत रखते हुये अलाव की उत्तम व्यवस्था रहेगी और गरीबों को मुफ्त में भोजन भी मुहैया कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि मेले में बिजली की उत्तम व्यवस्था रहेगी और मेला अवधि में अनेक सांस्कृतिक व लोकरंजन के कार्यक्रम भी होंगे।

jhansitimes
the authorjhansitimes