अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

बुन्देलखंड

डीजीपी ने किया एसआईटी का गठन, करेगी मामले की जांच  

392Views

(रिपोर्ट-सैय्यद तामीर उद्दीन) महोबा । कारोबारी इन्द्रकान्त त्रिपाठी के मौत के मामले की जांच के लिये पुलिस महानिदेशक ने तीन सदस्यीय एसआईटी टीम का गठन किया है। एसआईटी मामले की रिपोर्ट एक सप्ताह में शासन को सौंपेगी।
तीन सदस्यीय टीम में वाराणसी जोन के आईजी विजय सिंह मीणा, डीआईजी शलभ माथुर और एसपी अशोक कुमार त्रिपाठी शामिल है। तीन सदस्यीय एसआईटी टीम तत्कालीन महोबा एसपी आईपीएस मणिलाल पाटीदार पर मृतक व्यापारी द्वारा लगाये गये वसूली और हत्या कराये दिये जाने के आरोपों की जांच करेगी।
ध्यान रहे कि कबरई के कारोबारी इन्द्रकान्त त्रिपाठी की कानपुर के एक निजी अस्पताल में रविवार की शाम उपचार के दौरान मौत हो गयी थी। मृतक व्यापारी ने अपनी हत्या करा दिए जाने की आशंका व्यक्त करते हुये सोशल मीडिया पर वीडीयो वायरल किया था और साथ ही सूबे के मुख्यमंत्री को भी एक पत्र भेजा था। उनके द्वारा जारी किए गये वायरल वीडियों ने उन्होंने महोबा के तत्कालीन एसपी मणिलाल पाटीदार पर घूस मांगने का आरोप लगाया था असमर्थता व्यक्त करने पर उनके द्वारा व्यापारी को धमकी दी गयी थी कि फर्जी मुकदमों में फंसा देने की बात कही गयी थी और भयंकर तरीके से भयभीत किया गया था। वायरल वीडियों के कुछ दिनों बाद ही इन्द्रकान्त त्रिपाठी की नहदौरा के पास गोली मार दी गयी थी और बाद में उनकी उपचार के दौरान मौत हो गयी थी। इसी मामले के जांच के लिये उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ने तीन सदस्यीय एसआईटी टीम का गठन किया गया है जो मामले की जांच पड़ताल के बाद सात दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेगी।

jhansitimes
the authorjhansitimes