अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

बुन्देलखंड

शून्य की परिकल्पना से मान बढ़ाया ऐसे स्वामी विवेकानंद थे: तिवारी

Views

(रिपोर्ट-सैय्यद तामीर) उद्दीन महोबा। स्वामी विवेकानंद जयन्ती के पावन पर्व पर नवाचार एक पहल महोबा की इकाई  के तत्वावधान में जिला संयोजक अशोक शुक्ला द्वारा एक ऑनलाइन काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ भावना सुल्लेरे द्वारा सरस्वती वंदना से हुआ। संस्थापक प्रवीण कुमार ने सभी का स्वागत करते हुए राष्ट्रीय युवा दिवस पर स्वामी विवेकानन्द को श्रद्धा सुमन अर्पित किया। गोष्ठी के मुख्य अतिथि योगिराज मिश्र ने कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए कहा कि..
किसी को याद दिलाओ तो अच्छीयादों को याद दिलाओ अगर याद दिलाओ तो उसकी मजबूती को याद दिलाओ न कि उसकी कमजोरी को। स्वामी विवेकानंद को प्रेरणा पुंज बताते हुए उन्होंने सभी को प्रेरणा लेने को प्रेरित किया। राष्ट्रीय युवा दिवस पर आयोजित काव्य गोष्ठी में जनपद महोबा संयोजक अशोक शुक्ला ने कहा कि आज हम विवेकानंद का पावन जन्मदिवस मनाते है, आओ सब मिलकर हम श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं।
काव्य पाठ करते हुए अनिल रावत मंजुल ने कहा कि तपिश के जोर के आगे नही जो हार जाता है। समय जब ठीक आता है वही जलधार पाता है। शिक्षिका अपर्णा ने कहा कि मन के भावों का उद्दीपन हैं, युवाओ का आदर्श हैं विवेकानंद, ओमप्रकाश तिवारी ने कहा शून्य की परिकल्पना से मान बढ़ाया ऐसे स्वामी विवेकानंद थे ऐसे, अलका कुशवाहा ने कह जिसने भारत का मान बढ़ाया वो,परमहंस का शिष्य विवेकानंद कहलाया। श्रीकृष्ण मोहन नायक ने कहा  मान बढ़ाया भारत मां का देश विदेश में। उमाकांत प्रखर ने विवेकानंद पर गीत गाते हुए कहा, जीवन के पुष्पित पल हों या पतझड़ के, हर पीड़ा को उर में रखकर हम प्रतिपल मुस्काये। राम नारायण पाण्डेय ने कहा कि आज इस देश का ताज उसे सौंपिये, जिसे प्राणिमात्र से बेहिसाब प्यार हो।
सभी कवि, कवियत्रियों का आभार नवाचार एक पहल के राष्ट्रीय संयोजक हरिश्चन्द्र सक्सेना सक्सेना ने किया तथा काव्य गोष्ठी का संचालन प्रतिज्ञा त्रिवेदी ने किया। गोष्ठी में नवाचार एक पहल नई उड़ान प्रमुख दीप्ति सक्सेना, बरेली से गीतांजलि वार्ष्णेय, सोनभद्र से नीलम दीक्षित, बुलन्दशहर से डॉ, प्रीति चौधरी, बदायूँ से इकबाल अहमद, पंकज वार्ष्णेय, फरहत हुसैन, हृदेश चन्द्र माथुर, हमीरपुर से रुक्सार परवीन, चित्रकूट से रामनारायण पाण्डे, मुरादाबाद से पल्लवी भारद्वाज,मथुरा से गुरुप्यारी सत्संगी,बलिया स श्वेता वर्मा,शाहजहांपुर से तेजपाल कौर, जौनपुर से रमेश कुमार, व महोबा से संतोष कुमार प्रजापति, अलका कुशवाहा, अपर्णा नायक, भुवनेश्वर शुक्ला, कृष्ण मोहन नायक,आभा मिश्रा, अवधेश मिश्रा, सारिका अग्रवाल, दीपिका गर्ग, रेनू मिश्रा,आदि उपस्थित रहे।

jhansitimes
the authorjhansitimes