अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

बुन्देलखंड

नजदीक आ गयी अर्जुन सहायक परियोजना की मुकम्मल होने की घड़ी

441Views

(रिपोर्ट-सैय्यद तामीर उद्दीन) महोबा। महत्वाकांक्षी अर्जुन सहायक परियोजना के मुकम्मल होने की घड़ी नजदीक आ गयी है जनपद के लिए यह योजना मील का पत्थर साबित होगी। बुन्देलखण्ड की सूखी पठारी धरती को जहां पानी की दिक्कतों से दो चार नहीं होना पड़ेगा वहीं आम जनमानस को पेयजल के लिए भी पर्याप्त मात्रा में पानी मिलना संभव हो पाएगा, खेतों में हरियाली फैली और किसानों के चेहरों पर मुस्कान बिखरेगी।
दरअसल सैकड़ो, करोड़ो रुपया खर्च करके अर्जुन सहायक परियोजना का काम गत वर्षो में आरम्भ हुआ था, योजना को लेकर उददेश्य यह निहित था कि बुन्देलखण्ड की सूखी पठारी धरती महोबा में पानी की समस्या से जहां जनमानस को दिक्कतों का सामना न करना पड़े वहीं किसानों के सामने भी रोना न रहे।
यहां का काश्तकार विपरीत परिस्थितियों में बमुश्किल तमाम मात्र एक रवि की फसल ही अब तक ले पाता है और उसने भी सिंचाई के संसाधनों का संकट उसके लिए मुसीबत खड़ी करता रहा है लेकिन अपनी जीवटता से यहां का किसान तमाम मुश्किलों के बाद भी जैसे, तैसे उपज लेता रहा है, बाकी जायद और खरीफ की फसलें यहां का काश्तकार भरपूर मात्रा में ले पाने में अब तक नाकाम ही रहा है। लेकिन अर्जुन सहायक परियोजना उसके सुनहरे सपनों में रंग भरने का काम करेगी, अर्जुन सहायक परियोजना के प्रारम्भ से ही यहां का काश्तकार इसको लेकर हर्षित रहा है, दीगर बात है कि तमाम बीच में आई दिक्कतों से अर्जुन सहायक परियोजना जहां आवंटित बजट बढ़ता रहा है वहीं इसका काम निर्धारित समयावधि को लांघता चला गया लेकिन अब वह समय नजदीक आ रहा है जब यह योजना अपने पूर्ण होने की तरफ तेजी से दौड़ लगा रही है।
डीएम सत्येन्द्र कुमार ने अर्जुन सहायक परियोजना को लेकर आते ही बेहद रूचि दिखाई और काम गति देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई उन्होंने पिछलें दिनों कबरई में अर्जुन सहायक परियोजना के निर्माणाधीन कार्यो की गति और उसकी गुणवत्ता को परखा निर्देश दिये कि इस परियोजना में डील और लापरवाही तथा लेटलतीफी को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और इस योजना के शेष रह गये काम को अतिशीघ्र पूरा किया जाए। बताया जा रहा है कि अर्जुन बांध से कबरई बांध के बीच किलो मीटर संख्या 27.5200 पर डी क्रांसिंग के 8 में से 6 स्लैब के कंक्रीट का पूरा हो रहा है और 7वें की स्लैब कास्टिंग की जा रही है डीएम ने बताया कि जल्द से ही अर्जुन सहायक परियोजना पूरी हो जाएगी और इसका जनपद वासियों को भरपूर लाभ मिलेगा और वह इस योजना से लाभांवित होगें।

jhansitimes
the authorjhansitimes