अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

बुन्देलखंड

उप प्रभागीय वनाधिकारी के घर हुई चोरी का खुलासा, 35 लाख से अधिक की नकदी और सोने के बिस्कुट समेत पकड़े चोर

Views

उरई। वन विभाग के ललितपुर में पदस्थ एसडीओ के घर से गत माह हुयी चोरी का खुलासा कर पुलिस ने पहली बार लगभग 37 लाख रूपये की कैश बरामदगी कर इतिहास रच दिया। पहले कभी इतनी बडी नगदी पुलिस ने बरामद करके नहीं दिखाई थी। इतना ही नहीं साढे नोै सोै ग्राम से अधिक सोना भी चोरो के कब्जे से मिला है। दूसरी ओर पुलिस ने एसडीओ की इतनी बडी अचल सम्पत्ति को लेकर आयकर और सतर्कता विभाग को भी रिपोर्ट भेजी है। जाहिर है कि इसके कारण चोरो के साथ साथ एसडीओ साहब के लिये भी मुसीबत पैदा हो सकती है।
पुलिस अधीक्षक ने मंगलवार को दोपहर बाद मीडिया को इस बारे में जानकारी देते हुये बताया कि महरौनी ललितपुर में पदस्थ उप प्रभागीय वनाधिकारी जगदेव सिंह के इकलासपुरा रोड स्थित मकान से 29 जनवरी को नगदी और जेवरात आदि की चोरी कर ली गयी थी। जगदेव सिंह ने इसे लेकर अपने घर में किराये पर रह रहे राजबहादुर सिंह, उनकी पत्नी रेखा और उनके पुत्र हर्ष उर्फ हैप्पी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इसे लेकर पुलिस अधीक्षक ने कोतवाली पुलिस, एसओजी और सर्विलान्स की संयुक्त टीम बनायी थी।


आरोपियों का पीछा करते हुये इस टीम को पता चला कि उनके द्वारा हाल में 45 लाख रूपये में सोने के बिस्किट एक स्थानीय सर्राफ को बेचे गये है। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक इस सर्राफ से पूंछतांछ कर राजबहादुर और उसके पुत्र हैप्पी को पकड लिया गया। हैप्पी इस रकम में से एक स्विफ्ट डिजायर गाडी खरीदकर चोरी में शामिल रहे अपने मित्र रोहित यादव निवासी मुहल्ला नया पटेलनगर को दे चुका था। पुलिस ने हैप्पी से बचे हुये 36 लाख 49 हजार 500 रूपये की नगदी बरामद कर ली। इसके अलावा 931.630 ग्राम सोने के बिस्किट और 490.500 ग्राम चांदी भी बरामद की। साथ ही स्विफ्ट वीडीआई कार नम्बर यूपी80 बीडी 0631 को भी जब्त कर लिया गया है।
राजबहादुर, हैप्पी और रोहित यादव के अलावा कांशीराम कालौनी के पास रहने वाले सर्राफ आशीष सोनी को भी इस मामले में गिरफ्तार कर लिया गया है। आशीष के मुताबिक इन लोगो ने कुछ सामान उसके पिता रामतीरथ के माध्यम से अन्य सर्राफों को भी बेचा है जिसकी जांच की जा रही है। खुलासे को लेकर पुलिस अधीक्षक ने कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक सुधाकर मिश्रा, एसओजी प्रभारी प्रवीण कुमार और सर्विलंास प्रभारी केबी सिंह व उनके सहयोगियों की पीठ थपथपायी।

jhansitimes
the authorjhansitimes