अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

देश

अनलॉक-4 की गाइड लाइन जारी, यह रहेंगे बंद, इन्हें खोलने की मिली इजाजत

1.88KViews

नई दिल्ली। अनलॉक-3 समाप्त होने जा रहा है और अनलॉक-4 शुरु। अनलॉक-4 शुरु करने से गाइड लाइन जारी की गई है। जिसके मुताबिक 7 सितंबर से मेट्रो सेवाएं चरणबद्ध तरीके से खोलने का निर्णय लिया गया है। वहीं कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्कूल और कॉलेजों को फिलहाल 30 सितंबर 2020 तक बंद रखने का फैसला किया गया है। इस दौरान, ऑनलाइन क्लास के जरिए पढ़ाई होगी।
गृह मंत्रालय की ओर से जारी गाइड लाइन के अनुसार सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक समेत अन्य आयोजनों की अनुमति होगी। लेकिन इसमें 100 से ज्यादा लोगों के शामिल होने की इजाजत नहीं होगी। इस दौरान, मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, थर्मल स्क्रीनिंग और सैनेटाइजर का उपयोग अनिवार्य होगा।

यह दिए गये निर्देश

  • 7 सितंबर से मेट्रो सेवाएं चालू होंगी।
  • 21 सितंबर से सोशल एकेडमिक, खेल, इंटरटेनमेंट, सांस्कृतिक, धार्मिक और राजनीतिक आयोजन की इजाजत होगी. 100 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे।
  • 21 सितंबर से ओपन एयर थियटर्स खुलेंगे।
  • स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे 30 सितंबर तक बंद रहेंगे।
  • 9वीं से 12वीं तक के छात्र चाहें तो स्कूल जा सकते हैं. इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।
  • कंटेनमेंट जोन में सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल, इंटरटेनमेंट पार्क और थियटर्स कुछ भी नहीं खुलेंगे. यहां पर 30 सितंबर 2020 तक लॉकडाउन लागू रहेगा।

स्कूलों को लेकर जारी किए यह निर्देश

  • 50 प्रतिशत स्टाफ को ऑनलाइन ट्यूशन के लिए स्कूल बुलाया जा सकता है
  •  कन्टेनमेंट ज़ोन के बाहर कक्षा 9 से 12 तक के छात्र मार्गदर्शन पाने के लिए स्वेच्छा से अध्यापक के पास जा सकते हैं। लेकिन इसके लिए पेरेंट्स से लिखित मंज़ूरी ज़रूरी होगी
  •  पीएचडी और रिसर्च स्कॉलर लैबोरेटरी जा सकते हैं, इसमें भी शर्तें लागू होंगी।

बिना केंद्र की इजाजत के लॉकडाउन नहीं

देश भर में सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल, थिएटर बंद रहेंगे। अंतरराष्ट्रीय यात्रा पर रोक जारी रहेगी। कोई भी राज्य, बिना केंद्र से चर्चा किए, कन्टेनमेंट ज़ोन के बाहर लोकल लॉकडाउन नहीं लगा सकता है। कंटेनमेंट जोन के बाहर यदि राज्यों को लॉकडाउन लागू करना है तो केन्द्र सरकार से उसके लिए इजाजत लेनी होगी।
गाइडलाइंस के मुताबिक लोगों और सामानों की अंतर्राज्य राज्यों में आवाजाही पर कोई रोक नहीं होगी और न ही इसके लिए कोई विशेष परमिट, अप्रूवल और ई-परमिट की आवश्यकता होगी।
देश भर में कोविड-19 के लिए पहले से जारी दिशानिर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा साथ में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पालन करना होगा। दुकानों को खोलने में फिजिकल डिस्टेंसिंग बरकरार रखनी होगी।

jhansitimes
the authorjhansitimes