अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

झांसी

विश्वास यानी बैंकिंग, विश्वास का तात्पर्य सहकारिता: मंत्री मुकुट बिहारी

Views

झांसी। बुन्देलखंड में झांसी जिले के महारानी लक्ष्मीबाई राजकीय पैरामेडिकल ऑडिटोरियम में जिला सहकारी बैंक झांसी की 53 वीं सामान्य निकाय बैठक हुई। जिसमें मुख्य अतिथि के रुप में सहकारिता विभाग के मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा रहे।
बैठक में उन्होने कहा कि कृषकों के उत्थान में सहकारी बैंक की अहम भूमिका है। बैंक कृषकों, अल्प आय, निर्बल वर्ग को बेहतर बैंकिंग सुविधाये उपलब्ध कराकर सहकारिता को गतिशील बनाने के लिये प्रतिबद्व और संकल्पबद्व रहेगा, जो सर्वथा संस्था एवं लाभार्थियों के हित में रहेगा। विकास की गति को बनाये रखते हुये सहकारिता आन्दोलन को अग्रणी सहकारी आन्दोलन बनाने में हर सम्भव प्रयास रखने होंगे। इसके साथ ही बैठक में उन्होंने उपस्थित जनों को भारत द्वारा 2-2 कोरोना वैक्सीन तथा चीन के गुरुर को तोड़ने पर सभी को बधाई दी और वीरांगना की धरती को सादर नमन किया। उन्होने कहा कि विश्वास सबसे बड़ी चीज है इसे बनाये रखना होगा जो साधारण व्यक्ति अपनी जमा पूंजी बैंक में रखता है और जब लोन लेने आता है तो बैंक यह कहकर टाल देता है कि पैसा नही है, तो यह उसके साथ विशवासघात है। यह सब पूर्व की सरकारों में होता रहा, परन्तु जब से हमारी सरकार आयी तो हमने विश्वास अर्जन का कार्य किया। विश्वास यानि बैंकिंग, विश्वास यानि सहकारिता। उन्होने कहा कि 2017 में 16 बैंक बेहद कमजोर थे परन्तु आज एक बैंक कमजोर श्रेणी में रह गया तथा शेष 15 बैंक ऐसे है जो ऑनडिमाण्ड पैसा दे रहे है।
इस अवसर पर ललितपुर सहकारी बैंक के अध्यक्ष हरिराम निरंजन, सीडीओ शैलेष कुमार, संयुक्त आयुक्त एवं निबन्धक सहकारिता उदयभानु सिंह, सचिव नन्द किशोर सहित संचालकगण जितेन्द्र दीक्षित, पुरुषोत्तम दत्त स्वामी, श्रीमती विभा तिवारी, आशाीष उपाध्याय, शिशुपाल सिंह यादव सहित समस्त संचालक मण्डल व बैंक कार्यलय के अधिकारी उपस्थित रहे।

jhansitimes
the authorjhansitimes