अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

झांसी

मुख्य चिकित्सा अधिकारी को लगी टीके की दूसरी डोज़

Views

झाँसी जनपद में 16 जनवरी से शुरू हुए कोविड टीकाकरण में अब दूसरी डोज़ लगने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। इसी के तहत  22 जनवरी को पहली डोज़ लगवाने वाले  मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ॰ जी के निगम ने शुक्रवार को दूसरी डोज़  लगवायी। इसके साथ ही छूटे हुये स्वास्थ्य कर्मियों के लिए मॉप उप राउंड भी चलाया गया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि कोविड के प्रति पूर्ण रूप से सुरक्षित होने के लिए टीके के दोनों डोज़ लगवाना बहुत जरूरी है। पहली डोज़ के 28 दिन  बाद दूसरी डोज लगाई जानी है। दूसरी डोज़ के 15 दिन बाद ही कोविड के प्रति पूर्ण प्रतिरोधक क्षमता बनती है। आज दूसरी डोज़ लगवाकर मैं आश्वत हो गया हूँ। जो लोग किसी कारणवश वैक्सीन लगवाने के लिए नहीं आए, उनके लिए मॉप उप राउंड चलाया जा रहा है। उस दिवस पर आकर  वैक्सीन जरूर लगवाएँ।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ॰ एन के जैन को भी आज दूसरी डोज़ लगाई गयी, अपना अनुभव साझा करते हुये उन्होने बताया कि दूसरी डोज़ के लगने के बाद भी मैं अपने आप को पूर्ण रूप से स्वस्थ  महसूस कर रहा हूँ, सभी से अपील है कि कोरोना के प्रति अपने आप को सुरक्षित करने के लिए निश्चित दिवस पर आकर वैक्सीन जरूर लगवाएं।

जिला क्षय रोग नियंत्रण इकाई में चल रहे सत्र में जहां सीएमओ और एसीएमओ ने वैक्सीन लगवाई, वहीं इकाई प्रमुख डॉ॰ राजकिशोर ने भी अपनी दूसरी डोज़ लगवायी।

जनपद में अब तक 15 हज़ार से अधिक लोगों का हो चुका है टीकाकरणcovid        

स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी डॉ॰ विजयश्री शुक्ला ने बताया कि जनपद में 18 फरवरी तक 15 हज़ार से अधिक लोगों को पहली डोज़ लग चुकी है, वहीं 353 लोगों ने दूसरी डोज़ भी लगवा ली है। डॉ॰ शुक्ला ने भी आज अपनी दूसरी डोज़ लगवायी। उन्होने कहा कि 50 प्रतिशत सुरक्षा हमने पहली डोज़ में पा ली थी, अब 100 प्रतिशत सुरक्षा मिल गयी। स्वास्थ्य विभाग कर्मी होने के नाते कोविड समय में एक लंबा कार्यकाल डर के साथ तय किया, टीकाकरण के बाद अब बिना किसी डर के कार्य किया जाएगा।

jhansitimes
the authorjhansitimes