अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

झांसी

झांसी की तपोभूमि झारखंड की धसान नदी में श्रद्धालुओं ने किया स्नान

Views

झांसी/मऊरानीपुर। बुन्देलखंड में झांसी के मऊरानीपुर तहसील क्षेत्र के तपोभूमि झारखंड धाम में मकर संक्रान्ति पर्व पर कोरोना महामारी को नजरअंदाज कर हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं पहुंचे। जहां उन्होंने धसान नदी में स्नान कर बीच धार में पिण्डी रूप विराजमान महर्षि विश्वामित्र के दर्शन किये तथा तिल चावल आदि से हवन कर पूजन अर्चन किया।
मौसम साफ होने से पिछले वर्ष की अपेक्षा आज संक्रांति स्नान करने वाले भक्तों की संख्या काफी अधिक रही। स्नान करने के बाद भक्तों ने मुख्य मंदिर में विराजमान राधा कृष्ण भगवान के दर्शन किये तथा महिलाओं ने अपने श्रंगार के अलावा मेले में सजी दुकानों से घरेलू उपयोग में आने वाले सामानों की जमकर खरीददारी की। मेले में दूर दराज से आये दुकानदार विक्री होने से संतुष्ट नजर आये। मेला में उमड़ी हजारों की भीड़ को नियंत्रित करने की जिम्मेदारी मात्र तीन पुलिस कर्मियों के हवाले रही जो दुकानदारों से लेकर क्षेत्रीय लोगो में चर्चा का विषय रही।
पिछले वर्षों की तरह प्राचीन मेले में पुलिस फोर्स भीड़ के मुताबिक न होने के वाबजूद थाना लहचूरा की पुलिस चौकी गुढ़ा से उपनिरीक्षक अशोक कुमार, हेड कांस्टेबल हाकिम सिंह व हरीश गौतम को यातायात व्यवस्था से लेकर मेला ग्राउण्ड व नदी के स्नान घाट तक की जिम्मेदारी सम्हालने में बड़ी मशक्कत करनी पड़ी। जिसकी लोगों ने सराहना की तथा आगामी दिनों तक चलने वाले इस प्राचीन मेले में उच्चाधिकारियों से पर्याप्त पुलिस फोर्स उपलब्ध कराये जाने की मांग की।

jhansitimes
the authorjhansitimes