अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

झांसी

एड. शमीम, याकूब और सपा नेता असफान ने दी ईद-उल-अजहा की मुबारकबाद, कहा-घरों में रहकर मनायें पर्व

झांसी। कोविड-19 का खतरा बना हुआ है। इसलिए हम सभी सरकार जारी गाइड लाइन के अनुसार घरों में रहकर बकरीद का त्यौहार मनाना चाहिए। यह अपील करते हुए बसपा नेता/एड. शमीम खान और सपा नेता असफान सिद्दीकी व एड. याकूब अहमद मंसूरी ने झांसी समेत पूरे देश के लोगों को बकरीद की शुभकामनाएं दी।
बसपा नेता/एड. शमीम ने कहा कि बकरीद की बधाई देते हुए बकरीद के बारे में बताया। इसके साथ ही उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि वर्तमान में कोरोना युग चल रहा है। इसलिए हम सभी घरों में रहकर इस पर्व को मनाए। साथ ही सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन का पालन करें। जिससे हम कोविड-19 से स्वयं व अपने परिवार और आस-पास के लोगों को सुरक्षित रख सकें।
सपा नेता असफान सिद्दीकी का कहना है कि ईद हो या फिर बकरीद पूरे जीवन में कई बार आती है, लेकिन आज कोरोना संकट चल रहा है। जिसमें हम सभी को सर्तक रहना चाहिए। साथ ही इस संकट से झांसी समेत देश को बचाया जाए। सोशल का डिस्टेंस कतई उल्लघंन न किया जाये। घरों में रहकर कुर्बानी करें। इस दौरान खाना एकत्रित होकर इस प्रकार लोगों को न खिलाएं जिससे सोशल डिस्टेंस का उल्लघंन न हो।
वहीं उन्होंने सरकार और झांसी प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि कोरोना जांच रिपोर्ट शीघ्र आए। जिससे संक्रमित मरीजों का इलाज शीघ्र शुरु हो सके। वहीं वह जनता से भी कहना चाहते है कि जब उनकी कोरोना जांच हो तो वह होम क्वारनटाईन हो जायें।
एड. याकूब अहमद मंसूरी का कहना है कि यह त्यौहार तपस्या और बलिदान का है। कोरोना महामारी से आज पूरा देश परेशान है। इसका आज तक कोई भी दवा और वैक्सीन नहीं बनी है। कोरोना से बचाव केवल सोशल डिस्टेंस और मास्क लगाना है। जिससे इस वायरस की गिरफ्त में वह नहीं आ सके। शासन-प्रशासन ने एक गाइड लाइन जारी की है। जिसके मुताबिक हम सभी को घर में रहकर बकरीद मनाएं और कुर्बानी करें।

jhansitimes
the authorjhansitimes