अफसरों की लापरवाही में फंसी #स्मार्ट_सिटी, #झांसी में बने #पिंक_टॉयलेट में लगा ताला

झांसी

पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन का बड़ा बयान, बोले-बस नहीं चला वरना राहुल को गोली से उड़ा देती योगी सरकार

470Views

झांसी। हाथरस में गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के रास्ते में यूपी पुलिस द्वारा जो व्यवहार किया गया है। उससे कांग्रेसियों में आक्रोश व्याप्त है। झांसी में पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य समेत कांग्रेसियों ने प्रदर्शन करते हुए सीएम योगी शासन पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया है।
प्रदर्शन कर रहे पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की अब असलियत और पोल खुल गई। वह बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा देते थे, लेकिन आज हम देख रहे है कि हर जगह बेटियों के साथ बलात्कार हो रहा, सामुहिक रेप हो रहा। इसके बाद भी यह सरकार अपराधियों को सरक्षण देने का काम कर रही है। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि कोई व्यक्ति यदि पीड़ित परिवार के घर बैठने या मिलने जाए तो कोई कानून उसको रोक सकता है क्या?
राहुल गांधी और प्रियंका गांधी उनके घर जा रहे थे, तो कौन सा कानून है इंडिया में, जो दो व्यक्तियों को पीड़िता के घर जाने से रोक सकता है। यह सरकार कौन सा कानून चला रही है।

झांसी के अंदर भी हमारे कार्यकर्ताओं को जगह-जगह घरों में कैद कर दिया गया। पुलिस हमारे हाथों में हथकड़ी और पैरों में बेड़ी डाल सकती हैं लेकिन हमारी जुबानें बंद नहीं कर सकती हैं। कांग्रेस ने अंग्रेजों को धक्का देकर इस देश से निकाला था। अब जनता मुंह में राम, बगल में छुरी रखने वाले इन लोगो को पटक-पटककर इस देश की सत्ता से बाहर करेंगी। क्योंकि वह लड़की केवल एक दलित परिवार की नहीं बल्कि पूरे देश की बेटी थी। जिस प्रकार एक घटना हाथरस में हुई ठीक उसकी प्रकार दूसरी घटना बलरामपुर में हुई।
आज योगीजी के इशारे पर पुलिस ने राहुल गांधी को पटका, उनका गिरेवान पकड़ा और घसीटने का काम किया है। उनका बस नहीं चला नहीं तो वह राहुलजी को गोली मार देते। इनकी नीयत ठीक नहीं है। इन्होंने पहले प्रियंका जी की एसपीजी हटाई, वह मकान छीना। क्योंकि इन्हें खतरा है। यह अंग्रेजों से माफी मांगने वाले लोग हैं। यह नाथुराम गोड़से की विचारधारा मानते हैं। इनको यह कतई बर्दाश्त नहीं है कि इस देश के अंदर गरीब, दलित, अल्पसंख्यक, पिछड़े वर्ग के लोग मुख्य धारा में आए। यही कारण है कि आज इन्होंने राहुल जी को धक्का दिया और प्रियंका जी को रोका, लेकिन यह रोक नहीं सकत हैं यह तूफान है। झांसी में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहा है। फिर चाहे पुलिस कितना भी घरों में कैद कर ले।

jhansitimes
the authorjhansitimes