झाँसी: 60 भाजपा अध्यक्ष के दावेदारो की किस्मत दांव पर, पुराने दिग्गजो ने भी ठोकी ताल, लेना चाहते है सत्ता का मजा

झाँसी । सत्ता का मजा लेने के लिए भाजपा महानगर और जिलाध्यक्ष पद के लिए पांच दर्जन से अधिक दावेंदारो ने अपनी किस्मत दांव पर लगाई हुई है और यह सब पैनल के ऊपर निर्भर करता है किसके नाम लखनऊ तक पहुंचेगें, कौन कितना तेज दौड़ रहा है और वों अपना कितना जोर लगा सकता है इस उधेड़पन में पूरी चुनाव प्रक्रिया उलझकर रह गई है।
जिला झाँसी में भाजपा ने दो जिलाध्यक्ष बनाये हैं, महानगर और ग्रामीण | पार्टी गाइडलाइन के अनुसार महानगर जिलाध्यक्ष के लिए वर्तमान अध्यक्ष प्रदीप सरावगी, पूर्व मेयर किरण वर्मा, अमित साहू, संजीव श्रृंगऋषि, सुधीर सिंह, मुकेश मिश्रा, संजय दुबे, जमुना कुशवाहा, प्रमोद राजपूत, विनोद नायक, रानू देवलिया , प्रमोद राजपूत, दीपक सिंह, महेश बदल, राजेश पाल, संजीव अग्रवाल,राजेंद्र गुप्ता, राजीव पाठक, जीतू शिवहरे,उदय लुहारी, पवन कुमार गौतम सहित 31 ने और जिलाध्यक्ष ग्रामीण के लिए अशोक राजपूत, छत्रपाल राजपूत, महेंद्र पाठक, डॉ.रमेश श्रीवास, राजेंद्र प्रसाद मिश्रा सहित 30 ने दावेदारी ठोकी है | संभवत: भाजपा में यह पहली बार नियम बनाया कि दो समर्थक एवं प्रस्ताव जिसके पास हो वो चुनाव में खड़ा हो सकता है। जिलाध्यक्षी को दुबारा बनने के लिए आतुर दिखाई पड़ रहें है। आखिरकार जिलाध्यक्ष में ऐसी क्या खासियत है कि जिसकी वजह से इस पद को पाने के लिए लोगो में होड़ मचीं हुई है।
परन्तु इस चुनाव को लेकर जो तरह-तरह की चर्चायेें है वों निश्चित रूप से शहर में चर्चा का विषय बनी हुई है। अध्यक्षी पद को लेकर जो ताले ठोकी गई है उससे यह साबित हो रहा है कि पद को लेकर घमासान जारी रहेंगा। परन्तु जो भी चेहरे मौजूदा समय में मैदान में उतरें है उनकी धड़कने तब तक बरकरार रहेंगी जब तक हाईकमान द्वारा किसी तरह का कोई भी इशारा प्राप्त नहीं हो जाता है। इतना निश्चित है कि अब जिलाध्यक्ष का पद पाने के लिए जोर आजमाईश मेहनत से करना पड़ेगी ताकि आया हुआ मौका हाथ से न जाना पायें।