झांसी पुलिस ने दिखाई इंसानियत, रात के अंधेरे और सुनसान इलाके में फंसे युवक को पहुंचाया सुरक्षित स्थान

झांसी। यदि आप पुलिस के बारे में गलत सोच रखते हैं, तो इसे बदल दें। क्योंकि मुसीबत के समय पुलिस ही मदद के लिए आगे आती है। इसका उदाहरण झांसी के रक्सा थाना क्षेत्र में नजर आया। जहां रात के अंधेरे और सुनसान इलाके में मुसीबत का मारा एक युवक खड़ा था। जिस पर नजर पड़ने पर पुलिस ने उसकी न केवल मदद की बल्कि उसे सुरक्षित स्थान पर भी पहुंचाया।
हुआ यूंकि झांसी जिले के रक्सा थानान्तर्गत डोंगरी चैकी इंचार्ज ईश्वरदीन साहू, सिपाही आदिल अहमद और शैलेन्द्र कुमार के साथ रात्रि में गश्त कर रहे थे। इसी दौरान पुलिस टीम को झांसी वाईपास पर सुनसान इलाके में एक कार सवार मुसीबत में खड़ा था। शक होेने पर पुलिस टीम पास में पहुंची और जानकारी तो पता चला कि उसकी गाड़ी खराब हो गई है और वह काफी देर से वहां खड़ा है उसकी कोई भी मदद के लिए आगे नहीं आ रहा है।
पुलिस के अनुसार उक्त युवक ने छिंदवाडा से चला था ओर ग्वालियर जा रहा था। अचानक उसकी गाड़ी का इंजन खराब हो गया। उसने कई लोगों से मदद मांगी लेकिन किसी ने भी मदद नही की। हालांकि उसने ग्वालियर में रहने वाले अपने रिश्तेदारों से सम्पर्क किया, वह आने वाले ही होंगे। पूंछताछ करने पर पुलिस ने इंसानियत दिखाते हुए उसकी गाड़ी को अपनी सरकारी गाड़ी से बांधकर एक होटल तक पहुंचा। जहां ग्वलियर से उसके रिश्तेदार आने वह उनसा मिला। इसके बाद उक्त युवक और ग्वालियर से आने वाले रिश्तेदारों ने पूरी पुलिस टीम की जमकर सराहना की।