कांशीराम कालोनी में 90 दिन से सूखी है नल की टोटियां

(रिपोर्ट-सैय्यद तामीर उददीन) महोबा । शहर के पुलिस लाइन स्थित कांशीराम कालोनी में बीते तीन महीनों से पानी नही आ रहा है यहां रहने वाली कोई एक हजार लोग एक-एक बूंद पानी के लिये 90 दिनों से परेशान है। समस्या के समाधान को लेकर वह अनेक बार शिकायतें कर चुके है। लेकिन शिकायत का अब तक कोई सारगर्भित परिणाम सामने नही आया है इसको लेकर यहा रहने वाले लोगों में बेहद नाराजगी है, नागरिकों का कहना है कि अगले कुछ दिनों के भीतर समस्या का समाधान नही हुआ तो वह इस मामले को लेकर चुप नही बैठेंगे और लोकतांत्रिक तरीके से आन्दोलन को मजबूर हो जायेंगे।
गरीबों को पक्के आशियाने मिले इसको ध्यान में रखकर पूर्ववर्ती राज्य की बसपा सरकार द्वारा अपने शासन काल में शहर के तीन स्थानों पर कांशीराम कालोनी का निर्माण कराया गया था। यहां 15 सौ कमरे बताये गये थे बाद में पात्रता के आधार पर इनका आवंटन गरीबों के बीच किया गया था, काशीराम कालोनी में रहने वाले लोगों को बिजली, पानी आदि की समस्याओं से दो चार न होना पड़े इसको लेकर यहां समुचित प्रबन्ध किये गये थे।
लेकिन इधर बीते तीन महीनों से शहर के पुलिस लाइन स्थित कांशीराम कालोनी में कोई तीन महीने से नल की टोटियां सूखी पड़ी, यहां निवास करने वाली कोई एक हजार आबादी  के बीच पानी की एक-एक बूंद को लेकर समस्या प्रबल होती चली जा रही है। कहने को तो यहां कुछ हैण्डपम्प अधिष्ठापित कर रखे गये है लेकिन रखरखाव के अभाव में उनमें से अनेक हैण्डपम्प अब पानी उगल पाने में अक्षम साबित हो रहे है, बचे खुचे सही सलामत हैण्डपम्पों पर पानी  भरने वालों की दिन भर भारी भीड़ उमड़ रही है पहले पानी भरने को लेकर यहां लड़ाई-झगड़े की भी नौबत खड़ी हो रही है।
बताया जाता है कि पानी की समस्या से परेशान कालोनी वासियों ने इसकी शिकायत अनेक स्तरों पर की जा  चुकी है लेकिन अभी तक पानी की समस्या का समाधान नही खोजा जा सका है लिहाजा पानी की समस्या यहां लगातार प्रबल होती जा रही है जिसको लेकर कालोनी वासियों के बीच नाराजगी पनप रही है, कालोनी वासियों का कहना है कि अगले कुछ दिनों में पानी की समस्या का समाधान नही किया गया तो वे इस मामले को लेकर खामोश नही बैठेंगे और लोकतांत्रिक तरीके से आन्दोलन के लिये मजबूर हो जायेंगे।

कालोनियों वासियों पर पड़ी दोहरी मार….
अभी कालोनी वासियों की पानी की समस्या का ही शमन नही हुआ था कि रविवार की सुबह कालोनी की विद्युत विभाग द्वारा बिजली काट दी गयी है अब यहां रहने वाले लोगों के बीच दो तरह की समस्या मुंहबाकर खड़ी हो गयी है। दरअसल कालोनी में रहने वाले लोगों के लिये बेहद रियायती दरों पर बिजली उपलब्ध करायी जाती है इसको लेकर यहां बकायदा कालोनी में रहने वाले लोगों ने संयोजन हासिल कर रखे है और इसको लेकर बिजली विभाग ने संयोजन धारकों के घरों पर बिजली के मीटर भी लगा रखे है जिसका वे बिल आने पर उसकी अदायगी भी करते है, बताया जाता है कोई एक साल से बिजली बिल न आने के कारण इनके बिल मोटे हो गये है, बिजली काटे जाने से कालोनी वासी इस बात को लेकर नाराज है कि इसमें गलती विद्युत विभाग की है और खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ रहा है। समय पर हर माह विद्युत बिल भेजे जाये तो उन्हें अदायगी में दिक्कत नही है। ध्यान रहे कि कांशीराम कालोनी में रहने वाले लोग निर्बल वर्ग से आते है और मोटा बिल अदा करने की उनमंे सामर्थ नही है।